udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news युवाओं को घेर लिया एक अजब-गजब शोक ने ! आप भी जाने क्या है यह !

युवाओं को घेर लिया एक अजब-गजब शोक ने ! आप भी जाने क्या है यह !

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

थाइलैंड के बैंकॉक में एक क्लिनिक में प्राइवेट पार्ट को गोरा कराने वाले पुरुषों की लगी होड़

बैंकॉक । युवाओं को कब और कौन सा क्रेज घेर ले इसका पता नहीं होता और इन दिनों ऐसा ही कुछ देखने को मिल रहा है थाइलैंड के बैंकॉक में। यहां एक क्लिनिक मरीजों को पीनिस गोरा करने का ऑफर दे रही है।

यह प्रक्रिया लेजर ट्रीटमेंट के जरिए काम करती है। बैंकॉक का लीलक्स अस्पताल पहले ही स्किन वाइटनिंग के लिए प्रचलित है, लेकिन इस नई सर्विस ने पुरुषों को इतना आकर्षित किया है कि हर दिन कम से कम 3 से 4 क्लाइंट्स सर्जरी करवाने पहुंच रहे हैं।

हालांकि, यह प्रक्रिया काफी विवादित भी हो गई है। दरअसल, अस्पताल ने बीते गुरुवार को इस ट्रीटमेंट को करवा रहे क्लाइंट की तस्वीर साझा की, जिसके बाद थाइलैंड के टीवी और सोशल मीडिया पर इस प्रक्रिया को लेकर बहस छिड़ी हुई है।

अस्पताल के स्किन ऐंड लेजर डिपार्टमेंट के मैनेजर की तरफ से तस्वीर साझा की गई और लिखा गया,इन दिनों बहुत से लोग इसकी मांग कर रहे हैं। हमें सावधान रहना होगा क्योंकि यह शरीर का एक संवेदनशील हिस्सा है। क्लिनिक ने यह इलाज तब शुरू किया जब एक मरीज अपनी जांघों के बीच काले हिस्से को गोरा करवाने के लिए अस्पताल पहुंचा।

मैनेजर के मुताबिक, अब हर महीने करीब 100 पुरुष इस प्रक्रिया के लिए आते हैं। इनमें से अधिकांश की उम्र 22 से 55 साल के बीच है। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के मुताबिक, अस्पताल के क्लाइंट्स में से एक बड़ा हिस्सा थाइलैंड के एलजीबीटीक्यू समुदाय का हिस्सा हैं।

इस इलाज पर फिलहाल 5 सेशन के लिए 650 डॉलर यानी तकरीबन 41 हजार रुपये खर्च होते हैं। यह पहली बार नहीं है जब थाइलैंड का लीलक्स अस्पताल विवादों में घिरा हो। बीते साल भी अस्पताल ने 3डी वजाइना प्रक्रिया शुरू कर के विवादों को जन्म दिया था।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •