... ...
... ...

व्यापारी दस लाख तक ले जा सकेंगे,  चुनाव चेकिंग के दौरान परेशान नहीं किया जायेगा

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कानपुर। व्यापारी, उद्योगपतियों और बड़े कारोबारियों को अब अपने साथ दस लाख रूपये नकद लेकर चलने में परेशानी नहीं होगी। बस उन्हें जिला निर्वाचन अधिकारी :डीएम: द्वारा तैयार किया गया प्रारूप प्रोफार्मा अपने पास रखना होगा जिसमें यह दर्ज होगा कि वह यह रूपया कहां से ला रहे और किसको देने जा रहे हैं। यद्यपि व्यापारी की गाड़ी में यदि शराब या चुनाव प्रचार सामग्री झंडे, बैनर आदि मिले तो यह प्रारूप भी काम नहीं आयेगा और उनकी रकम जब्त कर ली जायेगी।
दरअसल उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के मददेनजर आचार संहिता लगते ही शहर के विभिन्न चौराहों पर पुलिस अधिकारी गाडिय़ों की चेकिंग कर रहे हैं और जिस गाड़ी में 50 हजार रूपये से अधिक की रकम मिल रही है वह जब्त करके आयकर विभाग को सूचित कर रहे हैं। पुलिस की इस चेकिंग में व्यापारी और उदयोगपति भी आ रहे हंै।

चूंकि कानपुर एक बड़ा औद्योगिक शहर है इसलिये व्यापारियों, उद्योगपतियों ने जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा से इस बाबत मिलकर बात की थी।जिला निर्वाचन अधिकारी शर्मा ने व्यापारियों की परेशनियों को सुना और उसका समाधान निकाला। उन्होंने जो प्रोफार्मा बनवाया है उसमें व्यापारी, उद्योगपति को अपना नाम पता लिखना होगा, उस व्यापारी का नाम और फोन नम्बर लिखना होगा जहां से वह यह पैसा ला रहे हंै। इसके साथ ही इसमें यह भी उल्लेख होगा कि किस वजह से यह पैसा ला रहे हैं, किस सामान की डिलीवरी की है या कोई सामान लिया है आदि।
इसके बाद वे 10 लाख रूपये तब अपनी गाड़ी से ले जा सकेंगे। जब रास्ते में फलाइंग स्कवायड या कोई चेकिंग दल व्यापारी को रोककर उससे इस पैसे के बारे में पूछता है तो वह उस प्रारूप को उनके सामने पेश करेगा। चेकिंग दल उसके कागज की जांच करेगा फिर दूसरे व्यापाारी से पूछताछ करेगा। यदि वह संतुष्ट हुआ तो व्यापारी को जाने दिया जायेगा। यद्यपि यदि किसी व्यापारी की गाड़ी में भारी मात्रा में शराब या चुनाव के झंडे बैनर या पोस्टर मिलेंगे तो उक्त धनराशि जब्त कर ली जायेगी।

Loading...