udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news उत्तराखंडःयह है हमारे माननीयों की असलीयत !

उत्तराखंडःयह है हमारे माननीयों की असलीयत !

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

उत्तराखण्ड में पिछले कार्यकाल में 150.18 करोड़ की विधायक निधि नहीं हो सकी खर्च

 
देहरादून । उत्तराखण्ड में पिछली विधानसभा के विधायकों के कार्यकाल में विधायकों की स्वीकृति पर खर्च की जाने वाली विधायक निधि की उनको उपलब्ध धनराशि की 16 प्रतिशत धनराशि 150 करोड़ 18 लाख 64 हजार रूपये फरवरी 2017 में कार्यकाल समाप्त होने पर खर्च होने को शेष थे। यह खुलासा सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन एडवोकेट को सूचना अधिकार के अन्तर्गत उत्तराखंड ग्राम्य विकास आयुक्त कार्यालय के लोक सूचना अधिकारी द्वारा उपलब्ध करायी गयी सूचना से हुआ है।

 
काशीपुर निवासी सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन ने उत्तराखंड के विधायकों द्वारा 2017 मेें कार्यकाल समाप्त होने तक विधायक निधि के खर्च व अवशेष सम्बन्धी सूचना ग्राम्य विकास आयुक्त उत्तराखंड से मांगी थी। इसके उत्तर में लोक सूचना अधिकारी/उपायुक्त (प्रशासन) डा0 जी0एस0खाती ने पत्रांक 2905 से फरवरी 2017 तक विधायक निधि खर्च का विवरण उपलब्ध कराया है।

 

नदीम को उपलब्ध कराये गये विवरण के अनुसार वित्तीय वर्ष 2012-13 से 2016-17 (फरवरी 17 तक) कुल 91075 लाख की विधायक निधि की धनराशि उपलब्ध थी जिसमें से 84 प्रतिशत धनराशि ही खर्च हुई तथा 15018$64 लाख की धनराशि खर्च होने को शेष है। श्री नदीम को उपलब्ध कराये गये विवरण के अनुसार सुबोध उनियाल, उमेश शर्मा, क्रंवर प्रणव सिंह चैम्पियन, प्रदीप ब़त्रा शैलारानी रावत, हरक सिंह रावत, अमृता रावत, विजय बहुगुणा, शैलेन्द्र मोहन सिंघल के पास खर्च हेतु 1050 लाख की धनराशि उपलब्ध थी। इसके अतिरिक्त भीमलाल आर्य, अजय टम्टा, दान सिंह भंडारी के पास 1150 लाख की धनराशि उपलब्ध थी।

 

पूर्व मेें कार्यकाल समाप्त होने या कम कार्यकाल वाले विधायकों रमेश पोखरियाल निशंक के पास 500 लाख, हीरा सिंह के पास 825 लाख, सुरेन्द्र राकेश के पास 775 लाख, ममता राकेश के पास 550 लाख हरीश धामी के पास 500 लाख तथा हरीश रावत के पास 825 लाख की धनराशि ही खर्च हेतु उपलब्ध थी। शेष अन्य सभी विधायकों के पास 1325-1325 लाख की धनराशि खर्च हेतु उपलब्ध थी।

 
केवल तीन विधायक ऐसे हैं जिनकी उनके कार्यकाल में शत प्रतिशत विधायक निधि खर्च हुई हैं इनमें कुंवर प्रणव सिंह चैम्पियन, सुरेन्द्र राकेश, शैलेन्द्र मोहन सिंघल शामिल है। 99 प्रतिशत विधायक निधि की उपलब्ध धनराशि जिन विधायकों की खर्च हुई है उनमें रमेश पोखरियाल निशंक, प्रदीप बत्रा, अमृता रावत शामिल हैं।

 

आर$बी$ गार्डनर की 98 प्रतिशत विधायक निधि उनके कार्यकाल में खर्च हुई है। सबसे कम विधायक निधि जिन विधायकों की खर्च हुई हैै उसमें पहले स्थान पर 43 प्रतिशत खर्च वाली ममता राकेश, दूसरे स्थान पर 48 प्रतिशत खर्च वाले निवर्तमान मुख्यमंत्री हरीश रावत है। तीसरे स्थान पर 57 प्रतिशत खर्च वाले निवर्तमान नेता प्रतिपक्ष अजय भट्ट तथा चौथे स्थान पर 59 प्रतिशत वाले मदन सिंह बिष्ट तथा पांचवें स्थान पर 64 प्रतिशत खर्च वाले निवर्तमान विधान सभा अघ्यक्ष गोविन्द सिंह कुंजवाल हैै।

 

तीन चौथाई से कम विधायक निधि जिन निवर्तमान विधायकों के पूरे कार्यकाल में खर्च हुई उनमें सबसे कम विधायक निधि खर्च वाले पांच विधायकों के अतिरिक्त मनोज तिवारी (65), सुरेन्द्र सिंह जीना (66), तीरथ सिंह रावत (70), दिलीप सिंह रावत (71), गणेश गोदियाल (72), अजय टम्टा (73), बिशन सिंह चुफाल (74), अनसुइया प्रसाद मैखुरी (74) शामिल हैं।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •