टाइगर बहुत अच्छा दोस्त है बस: दिशा पाटनी

इंडस्ट्री में दिशा पाटनी महज एक फिल्म पुरानी हैं। मूल रूप से उत्तराखंड की रहनेवाली और बरेली में पली-बढ़ी दिशा एक समय एयर फोर्स अफसर बनना चाहती थीं। मॉडलिंग की दुनिया से फिल्मों में आईं दिशा को धोनी द अनटोल्ड स्टोरी में बहुत पसंद किया गया। इन दिनों वह चर्चा में हैं, अपनी नई फिल्म बागी 2 से। इस खास मुलाकात में वह अपनी फिल्म, टाइगर श्रॉफ से अपने रोमांस और दोस्ती, अपने बचपन, लडक़ों से नफरत, सोशल मीडिया जैसे कई मुद्दों पर दिल खोलकर बात करती हैं।

सुबह 4 बजे उठाकर कसरत करवाता है
दिशा का मानना है कि जब आपका प्यारा दोस्त आपका हीरो बन जाए तो सेट पर काम करने में मजा आता है। बकौल दिशा, बहुत आसानी हो जाती है, दोस्त के साथ काम करने में। टाइगर काफी प्रेरणादायक और हिम्मत बढ़ाने वाले कलाकार हैं। उनके साथ काम करना काम जैसा नहीं लगता। हमारी काफी जमती है।

यही वजह है कि अगर मैं सेट पर कोई दृश्य न कर पाऊं या उसे बदलना चाहूं, तो उन्हें कोई दिक्कत नहीं होती। वह आसानी से समझ जाते हैं। वह बहुत मेहनती हैं। वर्कआउट के लिए सुबह 4 बजे उठ जाते हैं। सेट पर उनकी लगन देखने योग्य होती है। वह मुझे भी एक्सरसाइज करने के लिए प्रेरित करते हैं और सुबह 4 बजे आकर मुझे जगाते हैं। अच्छा लगता है, जब आपका साथी कलाकार आपको प्रोत्साहित करे। चूंकि हम दोनों काफी शर्मीले हैं, तो हमारी निभती भी खूब है।

परिवार अफवाहों पर ध्यान नहीं देता
दिशा पाटनी और टाइगर श्रॉफ की फिल्म भले अब रिलीज हो रही है, मगर उनके रोमांस और झगड़े की खबरें हमेशा सुर्खियां रंगती रही हैं। टाइगर के बारे में पूछने पर दिशा कहती हैं, मैं इतना कह सकती हूं कि टाइगर मेरा बहुत अच्छा दोस्त है, बस। जहां तक हमारे प्यार-रोमांस की बात है, तो मैं इन बातों पर ध्यान नहीं देती। अगर मैंने इन बातों पर ध्यान देना शुरू किया, तो मैं काम नहीं कर पाऊंगी। मैं खुद को बहुत ही खुशनसीब मानती हूं कि मुझे टाइगर जैसा दोस्त मिला।

असल में मुंबई में मेरा कोई दोस्त नहीं है। जितना भी मैं घूमती-फिरती हूं, टाइगर के साथ नजर आती हूं। शायद यही वजह है कि लोग हमारे लिंकअप्स की बातें करते हैं। शुरू में जब मेरा परिवार इस तरह की अफवाहों के बारे में सुनता था, तो उन्हें परेशानी होती थी, मगर फिर मैंने उन्हें यहां के तौर-तरीकों के बारे में समझा दिया। अब उन्हें भी कोई फर्क नहीं पड़ता।

एयर फोर्स पायलट बनना चाहती थी
दिशा ने कभी सपने में नहीं सोचा था कि वह ऐक्ट्रेस बनेंगी। वह कहती हैं, मैं तो एयर फोर्स पायलट बनना चाहती थी। मेरे पापा पुलिस फोर्स में हैं और मेरी बहन आर्मी में कैप्टन हैं। उनकी पोस्टिंग उत्तराखंड के रानीखेत में हुई है। घर के इस माहौल के कारण मैं भी ऐसे ही किसी क्षेत्र में जाने के बारे में सोचा करती थी।

मैं बीटेक की पढ़ाई कर रही थी और गर्मियों की छुट्टियां पड़ी, तो मैं एक कार्यक्रम में भाग लेने मुंबई आई। यहां मॉडलिंग की एक प्रतियोगिता हो रही थी, जिसमें मैं जीत गई। मुझे मुंबई में एक ब्रैंड शूट के लिए बुलाया गया। एक मॉडल ने मेरे फोटो खींचे और एजेंसी को भेजे। एजेंसी ने जब मुझे कहा कि वह मुझे साइन करना चाहते हैं, तो मात्र 18 साल की थी। बस वहीं से मॉडलिंग का सफर शुरू हो गया।

जब मुझे कॉलेज से निकाल दिया गया
मॉडलिंग में मुझे अच्छे-खासे पैसे मिलने शुरू हो गए। मुझे लगा कि कोशिश करने में कोई हर्ज नहीं और मैंने मुंबई आना-जाना शुरू किया। उस वक्त मेरे लिए सबसे ज्यादा खुशी की बात यह थी कि मैं मुंबई 2-3 दिन के लिए आती थी। विज्ञापन की शूटिंग करती थी, ऑडिशन देती और पैसे कमा कर वापस घर चली जाती। मुझे मम्मी-पापा से पैसे नहीं मांगने पड़ते थे।

मैंने कई टीवी कमर्शल किए। उन दिनों मुझे काफी ट्रैवल करना पड़ता था। मैं बीटेक के दूसरे साल में थी कि तभी कॉलेज से फरमान आया कि या तो मैं कॉलेज नियमित रूप से आऊं या फिर मॉडलिंग को चुन लूं। असल में मेरी कम अटेंडेंस के कारण मुझे कॉलेज से निकाल दिया गया था। उस वक्त मुझे झटका तो लगा, मगर मैंने सोचा कि मॉडलिंग के जरिए मैं कम से कम आत्मनिर्भर तो बन ही रही हूं।

ट्रोल्स को मुंहतोड़ जवाब देती हूं
दिशा सोशल मीडिया पर बेहद लोकप्रिय हैं, मगर कई बार वह ट्रोल्स की शिकार भी हुई हैं। इस विषय में वह कहती हैं, हर इंसान आपको पसंद नहीं कर सकता और आप हर किसी को संतुष्ट करने में अपनी जिंदगी नहीं गंवा सकते। मैं कोशिश करती हूं कि 2 दिन में अपने इंस्टाग्राम पर एक फोटो पोस्ट कर सकूं या कुछ लिख सकूं, मगर इन सोशल साइट्स पर सक्रिय रहते हुए आपको अपने दिमाग में यह बात बैठानी पड़ती है कि यह आपकी असल जिंदगी नहीं है।

कई बार आप जब इन साइट्स पर जाते हैं, तो आपको कई गंदे और फेक प्रोफाइल देखने को मिलते हैं। कई बार आपके बारे में अश्लील और बेहूदा बातें लिखी और बोली जाती हैं। ये ऐसे लोग होते हैं, जो अपनी जिंदगी से खुश नहीं हैं और अपनी हताशा और गंदगी इस तरह से दूसरों पर निकालते हैं। मैं ट्रोल्स पर ज्यादा ध्यान नहीं देती और जब कोई अपनी हद पार कर लेता है तो उसे जवाब भी दे देती हूं। शुरू-शुरू में जब मैं इस इंडस्ट्री में आई थी, तो मेरी मॉम मुझसे जुड़ी हुई हर खबर और तस्वीर को देखना-पढऩा चाहती थी, मगर फिर उन्हें मेरे बारे में सल्ट्री दिशा पाटनी, बूब जॉब्स ऑफ दिशा पाटनी जैसे आपत्तिजनक पोस्ट मिलने लगे, जिन्हें देखकर वह भौंचक्की रह गईं, मगर जब मैंने उन्हें समझाया कि यह सब फेक है और इस पेशे का हिस्सा है, तो उनकी समझ में आ गया।

किसी के सामने रो नहीं सकती
अपनी कमजोरियों के बारे में दिशा कहती हैं, आपको सुनकर अजीब लगेगा, मगर यह सच है कि मैं पर्दे पर खुद को देख नहीं पाती। मैं पर्दे पर जो कुछ करती हूं, मुझे वह कुछ भी अच्छा नहीं लगता। मैं बेहद शर्मीली हूं। कैमरा ऑन होते ही मैं अभिनय कर लेती हूं, मगर जैसे ही कैमरा ऑफ होता है, मैं अपने कवच में सिमट जाती हूं। मैं कभी किसी के सामने रोई नहीं हूं और इसलिए पर्दे पर रोना मुझे बहुत बुरा लगता है। मैं किसी को अपनी कमजोरी दिखाना पसंद नहीं करती।

लडक़ों से नफरत थी
आज दिशा और टाइगर भले अच्छे दोस्त बन गए हैं, मगर एक समय ऐसा था जब दिशा को लडक़ों से सख्त चिढ़ थी। वह कहती हैं, मुझे लडक़े कभी पसंद ही नहीं थे। बरेली जैसे छोटे शहर में लडक़े, लड़कियों का पीछा करते थे। उनके साथ अक्सर छेडख़ानी हुआ करती थी। इन कारणों से मुझे उनसे नफरत थी, मगर जब मैं बड़ी हुई तो लडक़े मुझे भाव देने लगे।

कई बार जब किशोरावस्था में लड़कियों को ऑपोजिट सेक्स से अहमियत मिलती है, तो कई लड़कियां इसे सकारात्मक तौर पर लेती हैं, मगर मुझे यह जरा भी अच्छा नहीं लगता था। कॉलेज में भी मैं लडक़ों से दूर-दूर ही रहती थी। कॉलेज में आने के बाद भी मैं कार्टून नेटवर्क देखा करती थी। मैं मार्शल आर्ट्स में पारंगत होना चाहती थी, ताकि मसखरों को सबक सिखा सकूं।

कुत्ते-बिल्ली संग रहती हूं
दिशा खुद को खुशकिस्मत मानती हैं कि धोनी द अनटोल्ड स्टोरी में छोटी-सी भूमिका करने के बावजूद उन्हें बहुत बड़ी पहचान मिली। वह कहती हैं, मेरा रोल छोटा था, मगर फिल्म बहुत बड़ी थी और लोगों को मैं पसंद आ गई। हालांकि मेरी जिंदगी में कोई बदलाव नहीं आया। मैं आज भी बिलकुल सोशल नहीं हुई हूं। पार्टियों में नहीं जाती। घर में अपने कुत्ते-बिल्ली के साथ रहना पसंद करती हूं। सुबह से लेकर शाम तक अपनी क्लासेज और जिमनास्ट करती हूं और रात को चुपचाप सो जाती हूं।

PropellerAds