udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news सिरोबगड़ के दलदल में फंसा पूर्व सीएम का वाहन ,जान बचाकर वाहन से भागे डॉ निशंक

सिरोबगड़ के दलदल में फंसा पूर्व सीएम का वाहन ,जान बचाकर वाहन से भागे डॉ निशंक

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जेसीबी के मदद से निकाला दलदल से वाहन ,पत्रकारों के सामने रखा सिरोबगड़ की समस्या को ,मुख्यालय पहुंचने पर कार्यकर्ताओं ने किया पूर्व सीएम का जोरदार स्वागत ,पत्रकार वार्ता के बाद कार्यकर्ताओं को किया संबोधित
रुद्रप्रयाग। कुमाऊं के दौरे पर जा रहे पूर्व मुख्यमंत्री और हरिद्वार से सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक को बद्रीनाथ हाईवे पर नासूर बने सिरोबगड़ में वाहन छोड़कर भागना पड़ा।

 

सिरोबगड़ की पहाड़ी से लगातार गिर रहे पत्थर और मलबे से सिरोबगड़ में भयक्रांत का माहौल बना हुआ है और जब श्रीनगर से रुद्रप्रयाग की ओर आ रहे पूर्व सीएम सिरोबगड़ पहुंचे तो उनका वाहन दलदल में फंस गया और उन्हें वाहन छोड़कर भागना पड़ा। भारी मशक्कत के बाद सिरोबगड़ में तैनात मजदूरों ने किसी तरह से पूर्व सीएम के वाहन को जेसीबी से बाहर निकाला, जिसके बाद वे मुख्यालय पहुंचे और सिरोबगड़ की समस्या को पत्रकारों के सामने रखा। इससे पूर्व भाजपा कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष विजय कप्रवाण के नेतृत्व में रैंतोली में पूर्व सीएम डॉ रमेश पोखरियाल निशंक का जोरदार स्वागत किया।

 

जिला मुख्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुए पूर्व सीएम एवं हरिद्वार से सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि जिले की जनता ने उन्हें जो प्यार और स्नेह दिया, उसके लिए मैं सभी कार्यकर्ताओं का आभारी हूॅं। पार्टी का एक कार्यकर्ता होने के नाते मैं कार्यकर्ताओं के दर्द को भलीभांति से जानता हूॅं। डॉ निशंक ने कहा कि सिरोबगड़ की समस्या का शीघ्र ही समाधान होने जा रहा है। चारधाम महायोजना के तहत साढ़े बारह हजार करोड़ का पैकेज दिया गया है। यह योजना उत्तराखण्ड के विकास की आधारशिला होगी।

 

12 महीने में 24 घंटों की सुरक्षित यात्रा होगी। सिरोबगड़ के अलावा राज्य के कईं ऐसे डेंजर जोन हैं, जो पहाड़ी जिलों के लिए नासूर बने हैं, ऐसे में यात्रियों को जान हथेली पर रखकर जाना पड़ रहा है। चारधाम महायोजना के धरातल पर उतरने के बाद सुरक्षित यात्रा होगी और पर्यटन एवं तीर्थाटन को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की योजनाओं का लाभ गरीब जनता को मिल रहा है। कहा कि 16 हजार करोड़ की लागत से बनने वाली रेल योजना का लाभ भी देवभूमि की जनता को मिलने जा रहा है।

 

यह योजनाएं पहाड़ी जिलों के विकास में मील का पत्थर साबित होंगी। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जन धन, प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक, मेक इन इंडिया, गंगा स्पर्श अभियान, स्वच्छ भारत मिशन जैसे क्रंातिकारी योजनाओं से देश की तस्वीर बदलने में आधार स्तम्भ खड़ा किया है। जो महिलाएं धुंए के सहारे घरों में खाना पकाती थी, उनके लिए फ्री गैस कनेक्शन की सुविधा प्रदान की गई है।

 

जीएसटी पर बोलते हुए पूर्व सीएम डॉ निशंक ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए जीएसटी को लागू किया जाना जरूरी था। जीएसटी से पहाड़ी जिलों को फायदा मिलेगा, जिससे एक देश एक कर का नारा सफल होगा। कहा कि जिस सामान का दाम मुंबई में होगा, उसी दाम पर वही सामान रुद्रप्रयाग में भी मिलेगा। जीएसटी लागू होने से गरीब जनता को इसका फायदा मिलेगा।

 

पत्रकारों से वार्ता के बाद डॉ निशंक ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि कार्यकर्ता मेरे लिए सर्वोपरि हैं और 1991 विधानसभा चुनाव की याद को ताजा करते हुए उन्होंने कहा कि मेरे लिए यह क्षेत्र नया था और यहां के लोगों ने जो मुझे प्यार एवं प्रेम दिया, उसका में सदैव आभारी रहूॅंगा। डॉ निशंक ने केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को कार्यकर्ताओं के सम्मुख रखा। स्थानीय विधायक भरत सिंह चौधरी ने पूर्व मुख्यमंत्री एवं हरिद्वार से सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक के रुद्रप्रयाग आगमन पर स्वागत किया और कहा कि डॉ निशंक के नेतृत्व में भाजपा संगठन मजबूत होगा और उनके अनुभवों का लाभ सरकार को मिलेगा।

 

इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष विजय कप्रवाण, पालिका अध्यक्ष राकेश नौटियाल, केदारनाथ नगर पंचायत अध्यक्ष देवप्रकाश सेमवाल, पूर्व दायित्वधारी बीना बिष्ट, शकुन्तला जगवाण, सरस्वती त्रिवेदी, ऊषा चमोला, देवी प्रसाद थपलियाल, नगराध्यक्ष सुनील नौटियाल, घनश्याम पुरोहित, देशराज डुडेजा, जिला महामंत्री अनूप सेमवाल सहित कईं मौजूद थे। बैठक का संचालन भाजपा जिला महामंत्री अजय सेमवाल ने किया।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •