सीएम ने किया 28 विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण

पिथौरागढ। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गुरूवार को राजकीय आदर्श विद्यालय डीडीहाट जनपद पिथौरागढ़ में आयोजित कार्यक्रम में कुल 28 विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। जिसमें 19 करोड़ 65 लाख 42 हजार रूपये की लागत की 07 विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण एवं 42 करोड़ 65 लाख 45 हजार रूपये की लागत के 21 विभिन्न विकास कार्यों का शिलान्यास शामिल है।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री द्वारा पं.दीन दयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजनान्तर्गत 02 प्रतिशत ब्याज दर पर 275 किसानों को एक करोड़ 70 लाख रूपये के ऋण के चैक वितरित किए गये। इसके अतिरिक्त कार्यक्रम में कृषि विभाग मैकेनाइजेशन योजनान्तर्गत महिला स्वयं सहायता समूहों को कृषि यंत्र पावर वीडर अनुदान के अंतर्गत वितरित किए गये।

मुख्यमंत्री द्वारा पशुपालकों को 40 लाख 95 हजार रूपये के चैक वितरित किए गये। इस अवसर पर डीडीहाट वन क्षेत्रान्तर्गत हिंसक वन्यजीवों द्वारा मारे गये पालतू मवेशियों के 07 वारिसों को 81 हजार रूपये के बैंक ड्राफ्ट/चैक वितरित किए गये। मुख्यमंत्री द्वारा इस अवसर पर आपदा रेस्क्यू वाहन जिसमें आपदा से संबंधित समस्त उपकरण, रैस्क्यू सामग्री उपलब्ध रहेगी को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि एक वर्ष पूर्व प्रदेश की जनता से वादा किया था कि राज्य में शिक्षा, स्वास्थ्य एवं रोजगार के क्षेत्र को प्राथमिकता देंगे। राज्य सरकार द्वारा अपने एक वर्ष के कार्यकाल में तीनों क्षेत्रों में कार्य किया गया। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में इस एक वर्ष में शत्-प्रतिशत उपलब्धि हासिल की गयी। 1000 चिकित्सकों की नियुक्ति के लक्ष्य के सापेक्ष 1141 चिकित्सकों की तैनाती की गयी और आने वाले समय में राज्य के सभी चिकित्सालयों में चिकित्सकों की तैनाती की जायेगी।

स्वास्थ्य सेवाएं को सुदृढ़ करने हेतु प्रत्येक जिले में आई.सी.यू. स्थापित की जा रही है। जिसकी शुरूआत 14 अप्रैल से पिथौरागढ़ में की जायेगी। उन्होंने कहा कि राज्य में चिकित्सा सुविधा के क्षेत्र में टेलीमेडिसन एवं टेली रेडियोलॉजी की शुरूआत की गयी है। वर्तमान में राज्य के 22 चिकित्सालयों को टेली रेडियोलॉजी तथा 36 चिकित्सालयों को टेलीमेडिसन सेवा से जोड़ दिया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की परिस्थितियों के अनुकूल एवं यहां की आवश्यकताओं के अनुसार प्राथमिकताएॅ निर्धारित की जा रही है। इस एक वर्ष में हमने शिक्षा, स्वास्थ्य एवं रोजगार के क्षेत्र को प्राथमिकता से लिया, आज प्रदेश के प्रत्येक महाविद्यालय में प्राचार्य की तैनाती की गयी है। राज्य के सभी तकनीकी संस्थानों जिसमें पॉलीटैक्निक में सभी प्रधानाचार्यों को अधिकार दिये गये है कि वह रिक्त पदों पर अपने स्तर से स्थानीय योग्य, अनुभवी अध्यापकों की तैनाती कर लें।

उन्होंने कहा कि माध्यमिक एवं प्राथमिक शिक्षा में सुधार हेतु उत्तराखण्ड देश का पहला राज्य है। जिसने एन.सी.ई.आर.टी. पाठ्यक्रम लागू किया। जिससे यहां के छात्र-छात्राओं को बेहतर शिक्षा उपलब्ध होने के साथ ही अभिभावकों का आर्थिक बोझ भी कम हुआ है। माननीय न्यायालय द्वारा राज्य सरकार के इस निर्णय को सराहा गया है। राज्य में एक जैसी शिक्षा व्यवस्था लागू की गयी है। सरकार द्वारा बच्चों के हित में बेहतर निर्णय लिया गया है।

उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में सरकार द्वारा कक्षा 6 से 12 तक के छात्र-छात्राओं के लिये आवासीय विद्यालय खोला जा रहा है। जिसमें एक कुमांऊ मण्डल तथा एक गढ़वाल मण्डल में स्थापित होगा। उक्त विद्यालय में अंतर्राष्ट्रीय स्तर की शिक्षा व्यवस्था उपलब्ध होने के साथ ही प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं एवं गरीब परिवार के बच्चों को अत्याधिक कम फीस पर प्राथमिकता से प्रवेश दिया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2018 राज्य में रोजगार वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के प्रयास किये जा रहे है। रोजगार के अवसर बढ़ाए जायेंगे, गांवों में रोजगार के स्रोत बढ़ाये जाने हेतु प्रत्येक न्याय पंचायत को ग्रोथ सैन्टर के रूप में विकसित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि महिलाओं में किसी भी प्रकार की बीमारी न हो इस हेतु प्रत्येक जनपद में इस वर्ष सेनेटरी नैपकीन यूनिट स्थापित की जा रही है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा डीडीहाट विधानसभा क्षेत्र के विकास हेतु विभिन्न घोषणाएं की गयी। जिसमें डीडीहाट पेयजल पंपिंग योजना के पूर्ण निर्माण हेतु आवश्यकतानुसार धनराशि दिये जाने, डीडीहाट मुख्यालय में मिनि स्टेडियम का निर्माण, थल एवं डीडीहाट में टैक्सी स्टैण्ड का निर्माण, डीडीहाट में हेलीपैड निर्माण, अस्कोट स्थित राजकीय इण्टर कॉलेज भवन की मरम्मत हेतु धनराशि, देवलथल में गैस गोदाम का निर्माण, विकासखंड मूनाकोट के झोलखेत में मिनि स्टेडियम का निर्माण की घोषणा शामिल है। इस अवसर पर उच्चशिक्षा एवं सहकारिता राज्य मंत्री डॉ.धन सिंह रावत ने उच्च शिक्षा एवं सहकारिता के क्षेत्र में राज्य में किए गये कार्यों की जानकारी दी। इस अवसर पर विधायक श्री बिशन सिंह चुफाल द्वारा विगत एक वर्ष में विधानसभा क्षेत्र डीडीहाट में किए गये विकास कार्यों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गयी।

कार्यक्रम में जिलाधिकारी सी.रविशंकर, पुलिस अधीक्षक अजय जोशी, मुख्य विकास अधिकारी सुश्री वन्दना सहित जिला स्तरीय अधिकारी स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं क्षेत्रीय जनता उपस्थित थी।

मुख्यमंत्री ने रखी करोड़ों रूपये की सडक़ों की आधारशिला
जनपद पिथौरागढ के विकासखण्ड डीडीहाट में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राजकीय इण्टर कॉलेज मैदान में विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। जिसमें 4265.45 लाख रूपेय की लागत की कुल 21 योजनाओं का शिलान्यास तथा 1965.42 लाख रूपये की लागत की कुल 07 योजनाओं का लोकार्पण किया गया।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र द्वारा 4265.45 लाख रूपये की कुल 21 योजनाओं का शिलान्यास किया गया। जिनमें 96.33 लाख रूपये की लागत से राज्य योजना अंतर्गत सातशिलिंग थल मोटरमार्ग के कि.मी. 29 से चामू भण्डारीगांव रजवार तक मोटरमार्ग निर्माण, 22.17 लाख रूपये की लागत से राज्य योजना अंतर्गत जनपद पिथौरागढ़ की विधानसभा क्षेत्र डीडीहाट के विकासखंड मूनाकोट में मड़मानले कठपतिया मोटर मार्ग के कि.मी. 06 बन्दा से गौछ नयावाद असुरदेव ठुकरियाइजर तक मोटर मार्ग का निर्माण, 22.17 लाख रूपये की लागत से जनपद पिथौरागढ़ के विधानसभा क्षेत्र डीडीहाट के अंतर्गत कठपतिया दौंबास मार्ग के कि.मी. 02 से बारमों तक मोटर मार्ग का नव निर्माण, 51.80 लाख रूपये की लागत से राज्य योजनांतर्गत जनपद पिथौरागढ़ की विधानसभा क्षेत्र डीडीहाट के विकासखंड मूनाकोट में पलेटा से खजीगांव, तड़ीगांव सुनखोली होते हुए भातड़ तक 05 कि.मी. मोटरमार्ग का निर्माण, 235.01 लाख रूपये की लागत से राज्य योजनांतर्गत जनपद पिथौरागढ़ के विधान सभा क्षेत्र डीडीहाट के अंतर्गत अल्मोड़ा बेरीनाग अस्कोट (थल ओगला) (राज्य मार्ग संख्या 03) के कि.मी. 153 से 159 में बी.एम. एवं बी.सी. द्वारा (हॉटमिक्स प्लॉन्ट व पेबर मशीन से) नवीनीकरण कार्य, 471.19 लाख रूपये की लागत से राज्य योजना के अंतर्गत जनपद पिथौरागढ़ के विधानसभा क्षेत्र डीडीहाट में हाट से लधड़ा तक मोटर मार्ग का निर्माण कार्य, 105.70 लाख रूपये की लागत से राज्य योजनान्तर्गत जनपद पिथौरागढ़ के विधानसभा क्षेत्र डीडीहट में मुवानी से मुंगरौली तक मोटर मार्ग का निर्माण कार्य, 25.00 लाख रूपये धनराशि की लागत से पशु चिकित्सालय खेत के भवन निर्माण कार्य, 35.00 लाख रूपये की लागत से संयुक्त चिकित्सालय धारचूला के अधीक्षक के पुराने आवास को ध्वस्तीकरण उपरान्त् नवनिर्माण कार्य, 18.00 लाख रूपये की लागत से संयुक्त चिकित्सालय धारचूला में होम्योपैथिक विभाग के 02 कक्षों का निर्माण, 25.00 लाख रूपये की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मुनस्यारी में आशा कार्यकत्री प्रशिक्षण केन्द्र के निर्माण, 35.30 लाख रूपये की लागत से स्वास्थ्य उपकेंद्र डुंगरी के निर्माण, 30.00 लाख रूपये की लागत से जौलजीबी मेलास्थल के निकट गेस्ट हाउस एवं डोरमैट्री निर्माण, 20.00 लाख रूपये की लागत से रा0प्रा0वि0 मदकोट में 02 अतिरिक्त कक्षा-कक्ष निर्माण बरामदा सहित निर्माण, 19.00 लाख रूपये की लागत से कृषि निवेश केंद्र मुनस्यारी का निर्माण, 1146.82 लाख रूपये की लागत से चर्मा-जौरासी-लख्तीगांव मोटर मार्ग का पुन: निर्माण का कार्य, 1085.88 लाख रूपये की लागत से नैनीपातल-मड़मानले मोटर मार्ग (चैनेज 7.00 से चैनेज 13.162) एवं मड़मानले-भौतड़ी एवं मड़मानले-कठपतिया मोटर मार्ग का पुन: निर्माण का कार्य, 664.08 लाख रूपये की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना के अंतर्गत विधानसभा-डीडीहाट, विकासखंड-कनालीछीना में डयोडा-बारमों मोटर मार्ग स्टेज 1 का निर्माण कार्य, 107.00 लाख रूपये की लागत से विकासखंड कार्यालय भवन मूनाकोट का निर्माण, 25.00 लाख रूपये की लागत से एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना द्वारा वित्तपोषित इनोवेशन प्रोजेक्ट (बड़ी ईलाइची उत्पादन से ग्रामीणों की आजीविका संवद्र्वन), 25.00 लाख रूपये की लागत से एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना द्वारा वित्तपोषित इनोवेशन प्रोजेक्ट (किसानों की क्षमता विकास हेतु एकीकृत मॉडल फार्म) का शिलान्यास शामिल है।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्रने कुल 07 विकास कार्यों का लोकार्पण किया। जिनमें 174.24 लाख रूपये की लागत से बास पठान पुल से चैरागोल्थी मोटर मार्ग लम्बाई 2.55 किमी., 241.75 लाख रूपये की लागत से गोगिना जमराडी मोटर मार्ग कि.मी. 9 से निसनी मोटर मार्ग, लम्बाई 5.00 कि.मी., 136.66 लाख रूपये की लागत से गंगोलीहाट से रनकोट उप्रेती मोटर मार्ग स्टेज-प्रथम, लम्बाई 2.25 कि.मी., 29.52 लाख रूपये की लागत से बुढकाफल सोलर पंपिंग पेयजल योजना, 392.93 लाख रूपये की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजनान्तर्गत विधानसभा-डीडीहाट, विकासखंड मूनाकोट में भटेड़ी-कटियानी मोटर मार्ग स्टेज-2 का निर्माण कार्य, 531.26 लाख रूपये की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजनान्तर्गत विधानसभा-डीडीहाट, विकासखंड मूनाकोट में जाखपंत-मनकोट मोटर मार्ग स्टेज-2 का निर्माण कार्य, 459.06 लाख रूपये की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजनान्तर्गत विधानसभा-डीडीहाट, विकासखंड कनालीछीना में बुंगाछीना-कुसैल मोटर मार्ग स्टेज-1 का निर्माण कार्य का लोकार्पण शामिल है।

PropellerAds