सऊदी अरब में पहली बार स्टेडियम में हुआ महिलाओं का ‘वेलकम’

सऊदी अरब। पहली बार महिलाओं ने स्टेडियन में बैठकर फुटबॉल मैच का लुत्फ उठाया। वॉशिंगटन डीसी (एएनआइ)। अपनी रूढ़ीवादी सोच को पीछे छोडक़र सऊदी अरब बदलाव की सोच लेकर आगे बढ़ रहा है। जहां साल 2017 सऊदी अरब की महिलाओं के लिए परिवर्तनकारी रहा, वहीं 2018 की शुरुआत भी लैंगिक समानता के साथ हुई।

सऊदी अरब में पहली बार महिलाओं ने स्टेडियन में बैठकर फुटबॉल मैच का लुत्फ उठाया। शुक्रवार को जेद्दाद में दो स्थानीय टीमों के बीच फुटबॉल मैच देखने पहुंचीं महिलाओं के लिए पहली बार स्टेडियम के दरवाजे खुले। हालांकि राजा अब्दुल्ला स्पोट्र्स सिटी स्टेडियम में महिलाओं के बैठने के लिए अलग से ‘परिवार दीर्घा’का बनाए गए।

वे ‘फैमिली गेट’ से स्टेडियम में दाखिल हुईं और ‘फैमिली सेक्शन’ में ही बैठकर मैच का मजा उठाया। महिलाएं काफी उत्साहित नजर आईं और उन्होंने जमकर सेल्फी भी ली। साथ ही अपनी पसंदीदा टीम की हौसला अफजाई भी की। जेद्दाह के स्टेडियम में महिलाओं का स्वागत के लिए महिला कर्मचारियों को तैनात किया गया था।

महिला प्रशंसकों और महिला कर्मचारियों ने पारंपरिक परिधान अबाया पहन रखा था। पहली बार स्टेडियम जाकर मैच देखने के लिए महिलाए काफी उत्साहित दिखी। सऊदी अरब के इस फैसले के पूरे विश्व ने सराहा। बता दें कि शुक्रवार को सऊदी के सूचना मंत्रालय ने बताया था कि महिलाएं जिस फुटबॉल मैच को पहली बार स्टेडियम में देखेंगी वह अल-अह्ली और अल बातिन के बीच होगा।

इसके बाद 13 जनवरी और फिर 18 जनवरी को भी महिलाए स्टेडियम में जाकर मैच देख सकेंगी। इनमें से पहला मैच रियाद, दूसरा जेद्दा और तीसरा दम्माम में खेला जाएगा।