... ...
... ...

रचा इतिहास: अनीष भानवाल ने जीता सिर्फ 15 साल की उम्र में गोल्ड मेडल

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नई दिल्ली। भारतीय शूटर अनीष भानवाल ने कॉमनवेल्थ गेम्स के 9वें दिन शुक्रवार को पुरुषों की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल का गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रचा दिया। सिर्फ 15 साल के अनीष कॉमनवेल्थ गेम्स में सबसे कम उम्र में गोल्ड मेडल जीतने वाले भारतीय हैं। वह इस टूर्नमेंट में पहली बार हिस्सा ले रहे हैं। यही नहीं, उन्होंने रेकॉर्ड भी बनाया।

 

इससे पहले महिलाओं की 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन स्पर्धा में भारत की तेजस्विनी सावंत ने रेकॉर्ड बनाते हुए गोल्ड मेडल जीता। उन्होंने 457.9 स्कोर हासिल करते हुए कॉमनवेल्थ गेम्स का रेकॉर्ड बनाया। इस इवेंट का सिल्वर मेडल भी भारत के नाम रहा। अंजुम मुद्गल ने 455.7 स्कोर के साथ दूसरे नंबर पर रहीं। भारत का यह 15 वां गोल्ड मेडल है।

 

फाइनल में अनीष ने 30 अंक हासिल किया। उन्होंने ग्लाग्सो-2014 में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में ऑस्ट्रेलिया के डेविड चापमान की ओर से बनाए रेकॉर्ड को तोड़ दिया। इसी इवेंट में हालांकि नीरज कुमार को निराशा हाथ लगी है। वह 5वें नंबर पर रहे।

 

अनीष ने कॉमनवेल्थ गेम्स में सबसे कम उम्र में गोल्ड मेडल जीतने का मनु भाकर का रेकॉर्ड तोड़ा। 16 वर्षीय मनु ने इस बार ही गोल्ड जीतकर रेकॉर्ड बनाया था। इससे पहले अनीष और नीरज ने यहां शुक्रवार को पुरुषों की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में जगह बनाई थी। अनीष ने क्वॉलिफिकेशन में पहला स्थान हासिल किया तो नीरज ने दूसरा।

 

अनीष ने स्टेज-1 में 98,98,90 के स्कोर के साथ 286 अंक लिए, जबकि स्टेज-2 में उन्होंने 99, 99, 96 का स्कोर करते हुए 294 अंक लिए और कुल 580 का स्कोर किया। नीरज ने स्टेज-1 में 97, 100 और 94 का स्कोर किया, जबकि स्टेज-2 में उन्होंने 98, 98, 92 का स्कोर करते हुए 298 अंक लिए और कुल 579 अंकों के साथ फाइनल में जगह बनाई।

Loading...