... ...
... ...

प्रेम विवाह: नाराज युवती के परिजनों ने की प्रेमी की मां की हत्या, पिता लापता

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सुलतानपुर। उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर जिले में झूठी शान की खातिर एक हत्या का मामला सामने आया है। आरोप है कि युवती के परिजनों ने उसके प्रेमी की मां की कथित रूप से पीट-पीटकर हत्या कर दी। यही नहीं युवक के पिता भी इसके बाद से ही लापता हैं।

 

रेलवे पुलिस ने गुरुवार को महिला का शव बरामद किया। शव की शिनाख्त होने के बाद अब यह पूरा मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि युवती ने कुछ ही दिनों पहले अपने प्रेमी से शादी की थी, जिससे उसके परिवार के लोग नाराज थे और रंजिश में हत्या की इस वारदात को अंजाम दिया गया।

 

पुलिस के मुताबिक सुलतानपुर के कुड़वार थाना क्षेत्र निवासी प्रेमी युगल काफी लंबे समय से एक दूसरे से प्रेम करते थे। जब युवती के परिवार के लोग रिश्ते के लिए राजी नहीं हुए तो दोनों ने 15 मार्च को घर से भागकर विवाह कर लिया। विवाह के बाद युवती के परिजनों ने प्रेमी अश्विनी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी जिसके बाद 15 अप्रैल को पुलिस ने युवती को ढूंढ निकाला। इसके बाद युवती ने कोर्ट में खुद को बालिग बताते हुए अश्विनी के साथ रहने की इच्छा जताई थी। इस पर कोर्ट ने भी दोनों को साथ रहने की अनुमति दे दी थी।

 

हत्या के बाद मालगाड़ी में डाल दिया शव
अदालत की इस कार्रवाई के बाद दोनों सुलतानपुर से दिल्ली चले गए थे। इसे लेकर युवती के परिजनों में खासी नाराजगी थी। कोर्ट के फैसले के बाद गत 29 अप्रैल को युवती के पिता काशी प्रसाद ने अश्वनी के पिता सुनील पाण्डेय और मां मंजू को सुलह के लिए अपने घर के पास बुलाया था। आरोप है कि वहां पहुंचने पर युवती के परिजनों द्वारा दोनों की बेरहमी से पिटाई की गई, जिसके कारण मंजू की मौत हो गई। मंजू की हत्या करने के बाद युवती के परिवार वालों ने शव को सुलतानपुर रेलवे स्टेशन के पास खड़ी मालगाड़ी में डाल दिया। वहीं इस घटना के बाद से ही युवक के पिता सुनील पांडेय लापता हैं।

 

हिरासत में लिये गए दो लोग
मंजू का कोई पता नहीं चलने पर उनके पिता राजमणि ने 30 अप्रैल को कुड़वार थाने में अपनी बेटी और दामाद के अपहरण की शिकायत करते हुए 5 लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई। इस मामले की जांच के दौरान ही रेलवे पुलिस ने मंजू के शव को बरामद करने के बाद उसकी शिनाख्त के फोटो को सोशल मीडिया पर शेयर कराया। जिसके बाद राजमणि ने इसकी पहचान कर ली।

 

पुलिस को शक, पिता की भी हुई हत्या
शव की शिनाख्त होने के बाद जांच में जुटी पुलिस ने जब युवती के पिता काशी प्रसाद के घर पर दबिश दी तो वहां के दरवाजे पर ताला लटका मिला। इसके बाद पुलिस ने बुधवार को इस वारदात में शामिल होने के शक में 2 लोगों को हिरासत में ले लिया। वहीं कुछ अन्य आरोपियों की तलाश अब भी की जा रही है। पुलिस के अधिकारी सुनील पाण्डेय की भी हत्या होने का शक जता रहे हैं, हालांकि अब तक उनके शव की बरामदगी नहीं हो सकी है।

Loading...