प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग से छात्रों में बढ़ता है आत्मविश्वास: राज्यपाल

देहरादून। राज्यपाल डॉ. कृष्ण कांत पाल ने उत्तराखण्ड तकनीकी विश्वविद्यालय में आयोजित प्रथम अंतर विश्वविद्यालय क्विज प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कृत किया। राज्यपाल के निर्देश पर राज्य के विश्वविद्यालयों में पहली बार आयोजित की गई अंतर विश्वविद्यालय क्विज प्रतियोगिता के ग्रैंड-फिनाले की विजेता दून विश्वविद्यालय की टीम रही। दूसरे स्थान पर उत्तराखण्ड तकनीकी विश्वविद्यालय की टीम रही।

 

राज्यपाल डॉ. पाल ने विजोताओं के साथ सभी प्रतिभागियों को बधाई देते हुए कहा कि इस तरह की प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करने से विद्यार्थियों में आत्मविश्वास आता है। आत्मविश्वास सफल कैरियर की पहली आवश्यक शर्त है। राज्यपाल ने कहा कि छात्रों को प्रतियोगिताओं व विभिन्न आयोजनों में प्रतिभाग करना चाहिए। आगे जाकर ये यादगार क्षण बन जाते हैं। राज्यपाल ने कहा कि कॉलेजों व विश्वविद्यालयों में प्रतियोगिताओं के आयोजन से एक सकारात्मक उत्साहजनक वातावरण बनता है। इससे छात्रों की प्रतिस्पर्धात्मक शक्ति का विकास होता है।

 

पहली बार राज्य के विश्वविद्यालयों की अंतर क्विज प्रतियोगिता के सफल आयोजन पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा राज्यपाल ने कहा कि आगे जाकर अखिल भारतीय क्विज प्रतियोगिता का आयोजन भी किया जा सकता है जिसमें अन्य राज्यों के विद्यार्थी प्रतिभाग करें। इससे राष्ट्रीय एकता की भावना को बल मिलेगा। राज्यपाल ने कहा कि इंटरनेट सूचना का सबसे बड़ा स्त्रोत है।

 

परंतु भ्रामक जानकारियों से बचना भी जरूरी है। इसलिए किसी भी सूचना को दूसरे स्त्रोतों से से भी वेरीफाई किया जना चाहिए। वस्तुत: सूचना व ज्ञान में अंतर होता है। सूचना ‘क्या’ व ‘कौन’ का उत्तर देती है जबकि ज्ञान ‘कैसे’ के बारे में बताता है। जैसे कि हम सभी स्मार्ट फोन का उपयोग करते हैं। परंतु अधिकांश को ये ज्ञान नहीं है कि यह तकनीक काम कैसे करती है।

 

उत्तराखण्ड तकनीकी विश्वविद्यालय व दून विश्वविद्यालय द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित प्रथम अंतर विश्वविद्यालय क्विज प्रतियोगिता के गे्रड फिनाले में उत्तराखण्ड तकनीकी विश्वविद्यालय, दून विश्वविद्यालय, एचएनबी उत्तराखण्ड मेडिकल एजुकेशन विश्वविद्यालय व उत्तराखण्ड आयुर्वेद विश्वविद्यालय की टीमों ने प्रतिभाग किया।

 

इनमें 85 अंकों के साथ दून विश्वविद्यालय पहले स्थान पर, 75 अंकों के साथ उत्तराखण्ड तकनीकी विश्वविद्यालय दूसरे स्थान पर, 70 अंकों के साथ एचएनबी उत्तराखण्ड मेडिकल एजुकेशन विश्वविद्यालय तीसरे स्थान पर रहा। इस अवसर पर उत्तराखण्ड तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति डा.यू.एस.रावत, एचएनबी उत्तराखण्ड मेडिकल एजुकेशन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.एच.एस.धामी, दून विश्वविद्यालय के कुलपति डा.सी.एस.नौटियाल आदि उपस्थित थे।

PropellerAds