udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news  फर्जी तहसीलदार समेत तीन गिरफ्तार

 फर्जी तहसीलदार समेत तीन गिरफ्तार

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

रुडक़ी। बुग्गावाला क्षेत्र में तहसीलदार बनकर खनन के वाहनों से अवैध वसूली करने वाले तीन युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से पुलिस ने वसूल की गई करीब नौ हजार की रकम और स्कार्पियो कार बरामद की है। कार को सीज कर दिया गया है। पुलिस ने इन सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

 

बुग्गावाला क्षेत्र से खनन कर आ रहे वाहनों को बंदजुड में एक स्कार्पियो कार में सवार होकर आए तीन युवकों ने रोक लिया। वाहन सवार एक युवक ने खुद को तहसीलदार रुडक़ी बताते हुए वाहनों के कागजात चेक किए। वाहनों को सीज करने की धमकी देते हुए अवैध वसूली शुरू कर दी। इसी बीच एक ट्रक चालक ने अपने मालिक को इसकी सूचना दी। जिसके बाद ट्रक चालक ने बुग्गावाला थाना प्रभारी गोङ्क्षवद कुमार को मामले की जानकारी दी। शक होने पेर बुग्गावाला थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे।

 

पुलिस को देख आरोपित फरार होने लगे। पुलिस ने घेराबंदी कर तीनों को धर दबोचा। पुलिस इन सभी को बुग्गावाला थाने ले आई। इनके कब्जे से वाहनों से वसूले गए नौ हजार रुपये भी बरामद किए। इसके अलावा स्कार्पियो कार भी बरामद की है। पुलिस ने कार को सीज कर दिया है। बुग्गावाला थाना प्रभारी गोङ्क्षवद कुमार ने बताया कि इस मामले में पकड़े गए आरोपित मन्नान निवासी गिलेवाला कस्बा छुटमलपुर थाना फतेहपुर, परवेज निवासी मंदिर वाली गली कारगी चौक देहरादून और फरमान निवासी बंदरजुड थाना बुग्गावाला हरिद्वार के खिलाफ ट्रकों से अवैध वसूली करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है। सभी आरोपितों से पूछताछ करने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है।

 

आरोपित कई समय से तहसीलदार और राजस्व अधिकारी बनकर खनन में लगे वाहनों से अवैध वसूली करते आ रहे थे। ट्रक चालक ने जब अपने मालिक को इसकी जानकारी दी तो उसे शक हुआ। उसने बुग्गावाला थाना प्रभारी गोङ्क्षवद कुमार से शिकायत की। जब बुग्गावाला थाना प्रभारी ने अपने फोन से चालक को फोन कर फर्जी तहसीलदार से बात कराने को कहा तो आरोपित हेकड़ी दिखाने लगा। उसने थाना प्रभारी को बताया कि वह रुडक़ी तहसीलदार बोल रहा है।

 

वह उसके खिलाफ भी कार्रवाई करा देगा। इस पर बुग्गावाला थाना प्रभारी ने उसे बताया कि वह मौके पर आ रहे हैं। इसके बाद आरोपित सकते में आ गए। बताया गया कि फर्जी तहसीलदार बनकर आरोपित इस तरह से चेङ्क्षकग कर रहे थे कि कई खनन लदे ट्रक चालक वाहन को लॉक कर फरार हो गए। जिससे कि वाहनों का चालान न कटे। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो उसने थाना प्रभारी पर दबाव बनाने का प्रयास किया, लेकिन बुग्गावाला प्रभारी पहले से ही रुडक़ी तहसीलदार मंजीत ङ्क्षसह गिल से परिचित थे। इसलिए उन्होंने तुरंत ही फर्जी बने तहसीलदार और उसके साथियों को पकड़ लिया। इसके बाद उनकी सारी हेकड़ी निकल गई।

 

फर्जी तहसीलदार बनकर उगाही करने वाले आरोपित कई माह से सक्रिय थे। इनके कुछ कथित मीडियाकर्मियों से भी संपर्क थे। पुलिस अब इस बात का भी पता लगा रही है कि कहीं कथित मीडियाकर्मियों का तो इस पूरे मामले में कोई संबंध नहीं है। थाना प्रभारी ने बताया कि इनके संपर्क में रहने वाले युवकों से पूछताछ की जा रही है।

Loading...

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •