फरियादी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के निर्देश

जांच रिपोर्ट सही आने के बाद भी शिकायत करने पर जिलाधिकारी ने जताया रोष ,पुराने विकास भवन में जनता दरबार का आयोजन

रुद्रप्रयाग। सभी अधिकारी निर्धारित समय सीमा के भीतर जन समस्याओं का प्राथमिकता से निराकरण करना सुनिश्चित करें। यह निर्देश जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने पुराने विकास भवन में आयोजित जनता दरबार में अधिकारियों को दिए। जनता दरबार में कुल 47 शिकायतें दर्ज हुई, जिसके सापेक्ष 29 शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया गया।

जनता दरबार में पहुंचे ग्राम सभा तिनसोली से पहुंचे फरियादी हरीश की ओर से बार-बार प्रधान पर लगाये जा रहे आरोपों पर कार्रवाई के बावजूद जांच रिपोर्ट सही आने पर भी शिकायत करने पर जिलाधिकारी ने फरियादी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने और जेल भेजने के निर्देश। फरियादी धर्म सिंह निवासी स्यूणी ने शिकायत दर्ज की कि वर्ष 1982-83 में खांकरा-खेडखाल मोटरमार्ग निर्माण में उनकी चार नाली भूमि कट गई थी, लेकिन अभी तक मुआवजा नहीं मिल पाया है।

जिस पर जिलाधिकारी ने ईई पीडब्लूडी को कार्यवाही के निर्देश दिए। जसपाल भारती निवासी नारायणकोटी ने कहा कि गत वर्ष अप्रैल माह में नारायणकोटी में उनकी दुकान को तोड़ दिया गया, तब वह बेरोजगार है। कहा कि नारायणकोटीम में व्यवसाय चलाने के लिए सरकारी जमीन का छोटा सा हिस्सा उन्हें उपलब्ध कराया जाय, जिस पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार ऊखीमठ को कार्यवाही के निर्देश दिए।

पूजन कुमार निवासी तिनसोली नागजगई ने कहा कि वह पशु चिकित्सा में फार्मेसिस्ट का कोर्स किया है यात्रा के दौरान यात्रा रूट पर पशुओं के उपचार हेतु फार्मेसिस्ट के पद पर संविदा में रोजगार प्रदान कराया जाय, जिस पर जिलाधिकारी ने यथासंभव कार्यवाही की बात कही।

जिस पर समस्याएं दर्ज कराने वाले फरियादियों में हर्षदेई राणा कमेडा ने आर्थिक सहायता, प्रधान ग्राम पंचायत पाबौ धनपुर ने पाबौ से हरियाली देवी कांठा मन्दिर तक छः किमी पैदल बटिया का प्राक्कलन तैयार करने, ग्राम पाबौ एवं ग्राम घण्डियालका के मध्य की सीमा की जाँच कराने, समस्त ग्राम सभा मयकोटी ने विगत एक सप्ताह से तल्ला नागपुर पेयजल योजना से पानी की आपूर्ति न होने के चलते गांव में पेयजल संकट पैदा होने की शिकायत दर्ज की।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डीआर जोशी, एसडीएम देवानन्द, परियोजना निदेशक एनएस रावत, पुलिस उपाधीक्षक श्रीधर बडोला, तहसीलदार जखोली शालनी मौर्य, तहसीलदार रूद्रप्रयाग श्रेष्ठ गुनसोला सहित विभागीय अधिकारी व फरियादी मौजूद थे।

PropellerAds