पीवी सिंधु तक पहुंचने के लिए विराट कोहली को करना होगा संघर्ष : बिशन

नई दिल्ली। महान स्पिनर बिशन सिंह बेदी का मानना है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली की बैटिंग और कप्तानी की असल परीक्षा साउथ अफ्रीका में होगी। बेदी ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शीर्ष खिलाडिय़ों के खिलाफ लगातार सफलता के लिए बैडमिंटन खिलाड़ी पी वी सिंधु की तारीफ की।

उन्होंने कहा कि ओलिंपिक सिल्वर मेडल विजेता सिंधु इतने साल से जो हासिल कर रही है, उसे हासिल करने के लिए विराट को संघर्ष करना होगा। सिंधु की तारीफ: बेदी के मुताबिक, ‘सिंधु ने इतने साल में काफी कुछ हासिल किया है। यह हासिल करने के लिये विराट को काफी संघर्ष करना होगा। सिंधु दुनिया की सर्वश्रेष्ठ खिलाडिय़ों से खेल रही है,

लेकिन कोहली की असल परीक्षा अब साउथ अफ्रीका में होगी।’ बेदी ने यह बात एक स्पोट्र्स मैगजीन के लॉन्च के मौके पर कही। हालांकि, सोशल मीडिया पर कुछ फैंस को यह तुलना स्वीकार नहीं है। एक फैन ने लिखा- सिंधु ने शटलर के तौर पर बहुत कुछ हासिल किया, वहीं भारतीय कप्तान विराट कोहली ने क्रिकेटर के तौर पर जो किया है, वह भी आसान नहीं है।

अपने-अपने क्षेत्र में दोनों का ही जवाब नहीं है। उल्लेखनीय है कि ओलिंपिक में क्रिकेट शामिल नहीं है। फ्रंट पर आने का था इरादा: इसी कार्यक्रम में पीवी सिंधु ने कहा कि खेल पत्रिका में बीच के पन्नों में अपनी तस्वीर देखने के बाद उन्होंने ठाना था कि वह एक दिन फ्रंट पेज पर जगह बनाएंगी और रियो ओलिंपिक्स में मेडल जीतकर उसने यह उपलब्धि हासिल की।

साइना को भी जाता है श्रेय: क्रिकेट के दीवाने देश में बैडमिंटन का लोकप्रियता ग्राफ बढ़ाने का श्रेय दुनिया की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी और ओलिंपिक पदक विजेता साइना नेहवाल के साथ सिंधु को भी जाता है। उन्होंने स्पोट्र्स स्टार के नए लुक के लॉन्च के मौके पर कहा कि ओलिंपिक्स के बाद भारत में बैडमिंटन का ग्राफ बढ़ा है।