नरबलि: 90 करोड़ रुपये के लालच में रस्सी से गला घोंटकर हत्या !

मथुरा । लालच में आकर धोखेबाज तांत्रिकों के चक्कर में फंसने का ताजा मामला यूपी के मथुरा से सामने आया है। आरोप है कि 90 करोड़ रुपये के लालच के चलते हैरान कर देने वाले इस मामले में तांत्रिक ने चार युवकों को अपने जाल में फंसाकर उनसे नरबलि दिलवा दी।

 

 

हाथरस के रहने वाले तांत्रिक ने पहले चार युवकों के साथ मिलकर एक व्यक्ति की हत्या की और फिर गला घोंटकर की गई हत्या में इस्तेमाल रस्सी की पूजा करने से 90 करोड़ रुपये मिलने का झांसा दिया। तांत्रिक ने युवकों के साथ मिलकर बीते दो अप्रैल को एक 19 साल के युवक की हत्या कर दी और फिर मृतक का शव यमुना में बहा दिया। पुलिस ने तांत्रिक सहित पांचों हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

 

जानकारी के मुताबिक, 19 वर्षीय सचिन पुत्र किशोर निवासी लखीमपुर खीरी, मथुरा में रहकर रिक्शा चलाकर अपने परिवार का भरण-पोषण करने में पिता की मदद करता था। थाना सदर बाजार क्षेत्र से 2 अप्रैल को अचानक शाम करीब 8 बजे सचिन गायब हो गया। परिजनों ने उसे खोजने का काफी प्रयास किया लेकिन कुछ पता नहीं चला।

 

 

इसके बाद परिजनों ने थाने में सचिन के गायब होने की रिपोर्ट दर्ज करा दी। इस मामले की छानबीन में जुटी पुलिस ने जब आस-पास के क्षेत्र में लगे सीसीटीवी फुटेज चेक किए तो पता चला कि सचिन को सदर क्षेत्र के मोहल्ला मुर्शदपुर के रहने वाले राजेन्द्र यादव और विनोद सैनी अपने साथ बाइक पर बिठा कर ले गए थे।

 

 

पुलिस ने दोनों को पकड़ पूछताछ की तो सारा मामला खुल गया। दोनों ने पुलिस को बताया कि हाथरस के रहने वाले तांत्रिक बंटी सैनी पुत्र महावीर ने उनसे कहा था कि रस्सी से गला घोंटकर किसी की नरबलि देने और फिर उस रस्सी की पूजा करने से 90 करोड़ रुपये की प्राप्ति होगी।

 

 

दोनों ने बताया कि लालच में आकर उन्होंने तांत्रिक और अपने दो साथियों लक्ष्मण सैनी और सोनू सैनी के साथ किसी की हत्या करने का प्लान बनाया। इसके लिए राजेन्द्र और विनोद बहला-फुसलाकर सचिन को अपने साथ यमुना के महादेव घाट पर ले गए, जहां रात्रि करीब 9 बजे पांचों ने मिलकर रस्सी से गला घोंटकर सचिन हत्या कर दी।

 

मामले की जानकारी देते हुए एसपी सिटी श्रवण कुमार ने बताया कि पांचों आरोपियों को अरेस्ट कर लिया गया है । उन्होंने बताया कि आरोपियों ने सचिन नामक युवक की हत्या करने का जुर्म कबूल किया है। एसपी सिटी ने बताया कि आरोपियों की निशानदेही पर यमुना किनारे स्थित झाडिय़ों के पास से मृतक सचिन की चप्पल बरामद की गई है। मृतक के शव की यमुना में तलाश भी कराई गई लेकिन सफलता नहीं मिल सकी है।

PropellerAds