मानवता शर्मसार : एक्सिडेंट के बाद शव को कुचलती रहीं गाडिय़ां !

नई दिल्ली । देश की राजधानी दिल्ली में मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। एनएच-24 पर हिट ऐंड रन की घटना के बाद शव घंटों सडक़ पर पड़ा रहा। कई गाडिय़ां शव को कुचलकर गुजरती रहीं पर किसी ने भी रुककर शव को सडक़ से हटवाने की कोशिश नहीं की। करीब 200 मीटर तक शव के टुकड़े फैल गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने बुरी तरह कुचल चुके शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया।

मृतक की उम्र करीब 35 साल बताई जा रही है, लेकिन पहचान नहीं हो पाई है। हादसा ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के पांडव नगर इलाके में हुआ। पुलिस ने खतरनाक ड्राइविंग और लापरवाही से हुई मौत का मामला दर्जकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस सूत्रों के अनुसार 10 जनवरी की सुबह 4 बजे के करीब पुलिस को कॉल मिली थी कि एनएच-24 पर गाजीपुर की तरफ जाने वाली सडक़ पर जहां अक्षरधाम पुल का बोर्ड लगा हुआ वहां एक शव पड़ा है।

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। हादसे वाली जगह से करीब 200 मीटर दूर तक शव के टुकड़े फैले हुए थे। धड़ से ऊपर वाला हिस्सा ही गायब था। पुलिस ने बॉडी को लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल पहुंचाया। बॉडी को देखकर अनुमान लगाया जा रहा है कि किसी गाड़ी की टक्कर लगने के बाद युवक सडक़ पर गिर गया होगा, जिसके बाद कई गाडिय़ां शव के ऊपर से गुजर गईं।

पुलिस अफसरों ने बताया कि मृतक के पास से तंबाकू की एक पुडिय़ा मिली है। हाथ में रेड कलर का कलावा बंधा हुआ है। ऐसा कुछ नहीं मिला, जिससे उसकी पहचान हो सके। शव के पास 3-4 रुपये के सिक्के बिखरे मिले। पुलिस ने यह सब सामान कब्जे में ले लिया है। मृतक की पहचान के लिए पता लगाया जा रहा है कि साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के अलावा ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के थानों में किसी के लापता होने की सूचना तो दर्ज नहीं हुई है।

टक्कर मारने वाली गाड़ी की पहचान करने के लिए सडक़ पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है। यह भी जांच हो रही है कि मरने वाला शख्स इतनी सुबह यहां कैसे पहुंचा, क्योंकि मौके पर पुलिस को कोई गाड़ी नहीं मिली। अभी तक पुलिस यही मानकर चल रही है कि मरने वाला कोई राहगीर है।