udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news माधुरी दीक्षित की बायोपिक करना चाहती हूं : करिश्मा तन्ना

माधुरी दीक्षित की बायोपिक करना चाहती हूं : करिश्मा तन्ना

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ऐक्ट्रेस करिश्मा तन्ना इन दिनों बेहद खुश हैं। उनकी खुशी की वजह भी बहुत खास है। एक ओर वह छोटे पर्दे का सबसे चर्चित शो नागिन 3 कर रही हैं, तो दूसरी ओर साल की सबसे बड़ी फिल्म मानी जा रही संजू में भी एक अहम किरदार में दिखेंगी। इसी सिलसिले में पेश है करिश्मा से यह खास बातचीत

फिल्म संजू का ट्रेलर खूब पसंद
किया जा रहा है। आपने भी इसमें एक छोटा सा रोल किया है। कैसा अनुभव रहा?
फिल्म में रणबीर कपूर को छोडक़र सोनम, अनुष्का, मनीषा कोइराला, दिया मिर्जा, सबके रोल छोटे ही हैं। फिर भी, सभी ने इसे किया, क्योंकि बहुत खूबसूरत फिल्म है। फिर, राजू सर के साथ काम करने का मौका मिला। रणबीर, विकी और राजू सर तीनों के साथ काम करने का अनुभव बहुत अच्छा रहा। मैंने राजू सर के निर्देशन की बहुत तारीफ सुनी थी, तो मैं उनका निर्देशन देखना चाहती थी। उनसे सीखना चाहती थी। रणबीर और विकी बहुत मजाकिया हैं, तो मुझे बहुत मजा आया। अपने छोटे से रोल में ही मैंने ऐक्टिंग, डांस सब कर लिया।

कहा जा रहा था कि फिल्म में आप माधुरी दीक्षित का रोल करने वाली थीं?
नहीं…(जोर से हंसती हैं) लेकिन अगली फिल्म में मैं माधुरी दीक्षित का रोल करना चाहूंगी। इन्फैक्ट, मुझे माधुरी दीक्षित की बायोपिक करनी है।
मौनी रॉय के बाद नागिन बनने को क्यों तैयार हुईं? नाग-नागिन का पुराना कॉन्सेप्ट होने के बावजूद इस शो के हिट होने की वजह?
नागिन करने की कई वजहें थीं। पहली तो एकता मैम थीं। दूसरा, यह शो बहुत बड़ा है। तीसरा, यह रोल बहुत अहम और चुनौतीपूर्ण है, क्योंकि इस किरदार में बहुत सारे इमोशन एक साथ हैं। इसमें लार्जर दैन लाइफ भी लगना है। नागिन भी लगना है और दर्शकों को भी भावनात्मक तौर पर इस तरह जोडऩा है कि वे आपके साथ रोएं। वहीं, मेरे हिसाब से इसके इतने हिट होने की वजह यह है कि लोगों को बेशक पता है कि यह हकीकत नहीं है, फिर भी हम इतने अच्छे तरीके से दिखाते हैं कि लोग देखते हैं। यह कॉन्सेप्ट ही लार्जर दैन लाइफ है, जहां नागिन इतनी खूबसूरत है और लोगों को एक खूबसूरत लडक़ी को टीवी पर देखना अच्छा लगता है। इसीलिए, यह शो हिट है।

शो में आप दुराचार का शिकार होती हैं। असल जिंदगी में भी ऐसी घटनाएं आम हैं। शो में तो आप नागिन बनकर बदला ले लेती हैं। यहां ये हादसे कैसे रुकेंगे?
जैसे दूसरे देशों में कड़ी सजा दी जाती है, वैसे ही यहां भी ऐसी कड़ी सजा दी जानी चाहिए कि कोई लडक़ी को छूने से पहले सौ बार सोचे। उनके मन में यह डर रहे कि हम पकड़े गए, तो हमारी हालत खराब हो जाएगी। जब तक मन में यह डर नहीं बैठेगा, तब तक रेप जैसी चीजें नहीं बंद होंगी। मेरा तो मानना है कि ऐसे लोगों को फांसी से भी बदतर सजा देनी चाहिए। फांसी में तो आप एक झटके में मर जाते हैं, ऐसे अपराधियों को धीरे-धीरे मारना चाहिए, ताकि दूसरों को भी पता चले कि रेप करने पर क्या हश्र होगा!

आप काफी समय बाद टीवी पर फिक्शन शो कर रही हैं। कम टीवी शोज करने की क्या वजह है?
रोल दमदार और चुनौतीपूर्ण होना चाहिए। टीवी पर आठ-दस महीने के लिए रोज 12 घंटे वही करना ऐक्टर के तौर पर मेरे लिए थोड़ा बोरिंग हो जाता है। मुझे लगता है कि मैं आगे बढ़ ही नहीं रही हूं। यही मेरी ऐक्टिंग की सीमा है। इसीलिए मैं बहुत कम टीवी शोज करती हूं। टीवी पर एक ही कॉन्सेप्ट को खींचते रहते हैंस, जबकि मेरे हिसाब से 4-6 महीने में शो बंद करना चाहिए। एक दमदार, तेज रफ्तार वाला शो लाओ, चार महीने दिखाओ, फिर खत्म। नया शो लाओ, जैसे नेटफ्लिक्स पर होता है। हमारे यहां एक शो चलता ही जाता है। कभी ऐक्टर्स के बारे में भी तो सोचो, रोज वही करते रहते हैं घिसा-पिटा, जो मुझसे नहीं होता।

Loading...

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •