जियो यूजर्स की संख्या हुई 15 करोड़ के पार

नई दिल्ली । नवंबर महीने में टेलिकॉम सब्सक्राबर्स की संख्या में कमजोरी देखने को मिली है। कुल सब्सक्राइबर्स में से 1.58 करोड़ घटकर 118.5 करोड़ हो गए हैं। हालांकि रिलायंस जियो नए ग्राहक जुडऩे के मामले में सबसे आगे है।

इसके कुल सब्सक्राइबर्स 15 करोड़ है। यह जानाकारी भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) की एक रिपोर्ट में सामने आई है। वहीं देश में टेलिफोन सब्सक्राइबर्स अक्टूबर 2017 के 1201.72 मिलियन से घटकर नवंबर 2017 के अंत तक 1185.88 मिलियन हो गए हैं। इसमें एक तरह से 1.32 फीसद की गिरावट दर्ज की गई है।

इस गिरावट का मुख्य कारण कुछ ऑपरेटर्स की ओर से मोबाइल सर्विस बंद करना था। इनमें अनिल अंबानी के नेत्त्व वाली रिलायंस क्म्युनिकेशन्स (आरकॉम) भी शामिल है। कंपनी को इस दौरान करीब 2.57 करोड़ सब्सक्राइबर्स खोने पड़े। रिपोर्ट के मुताबिक कुल मोबाइल सब्सक्राइबर्स 117.82 करोड़ से घटकर 116.24 करोड़ हो गए हैं।

हालांकि, कुल ग्राहकों की संख्या का नुकसान रिलायंस जियो, भारती एयरटेल, आइडिया सेल्युलर, वोडाफोन और बीएसएनएल के बढ़ते कस्टमर एडिशन से बराबर हो गया है। मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस जियो ने 61 लाख सब्सक्राइबर्स अपने साथ जोड़े हैं, अब इसका कुल कस्टमर बेस 15.2 करोड़ हो गया है।

टेलिकॉम दिग्गज भारती एयरटेल का सबसे ज्यादा कस्टमर बेस है। यह आंकड़ा 28.95 करोड़ है। नए सब्सक्राइबर्स को जोडऩे के मामले में नवंबर महीने में जियो ने 43 लाख कस्टमर जोड़ें हैं। आइडिया ने 31.98 लाख, वोडाफोन ने 27 लाख और बीएसएनएल ने 10.8 लाख नए सब्सक्राइबर्स जोड़े हैं।

रिपोर्ट में बताया गया है कि इस दौरान लैंडलाइन सब्सक्राइबर्स 2.35 करोड़ से घटकर 2.34 करोड़ के स्तर पर आ गए हैं।