udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news इंपोर्टेड सोलर सेल: पैनल पर लगेगी 70 प्रतिशत सेफगार्ड ड्यूटी!

इंपोर्टेड सोलर सेल: पैनल पर लगेगी 70 प्रतिशत सेफगार्ड ड्यूटी!

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बेंगलुरु । डोमेस्टिक सोलर इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरर्स की ओर से शिकायत के बाद डायरेक्टर जनरल (सेफगार्ड्स) ने उपयुक्त जांच के बाद इंपोर्टेड सोलर सेल, पैनल और मॉड्यूल पर कम से कम 200 दिनों की अवधि के लिए 70 पर्सेंट सेफगार्ड ड्यूटी लगाने की सिफारिश की है। डायरेक्टर जनरल (सेफगार्ड्स) संदीप भटनागर की जांच के शुरुआती निष्कर्षों में इससे सहमति जताई गई है कि ऐसी गंभीर परिस्थितियां मौजूद हैं जिनके कारण सेफगार्ड के उपायों को तुरंत लागू करना जरूरी है।

इंडियन सोलर मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन ने पिछले वर्ष 5 दिसंबर को एक याचिका दायर कर इंपोर्टेड सोलर इक्विपमेंट पर सेफगार्ड ड्यूटी लगाने की मांग की थी। एसोसिएशन का कहना था कि इन इक्विपमेंट के इंपोर्ट से डोमेस्टिक इंडस्ट्री को नुकसान हो रहा है। जांच के शुरुआती निष्कर्षों के बाद इस मामले पर जन सुनवाई होगी। इसके बाद अंतिम निष्कर्षों को अंतिम फैसले के लिए एक स्टैंडिंग बोर्ड के पास भेजा जाएगा

जिसमें कॉमर्स, रेवेन्यू, इंडस्ट्री पॉलिसी, एक्सटर्नल अफेयर्स और न्यू एंड रिन्यूएबल एनर्जी के सेक्रेटरी शामिल हैं। सेफगार्ड ड्यूटी एक अस्थायी राहत है जो उस समय दी जाती है जब किसी प्रॉडक्ट का इम्पोर्ट इतना बढ़ जाता है जिससे उसी प्रॉडक्ट के देश में मौजूद मैन्युफैक्चरर्स को बड़ा नुकसान होने की आशंका होती है। यह लोकल इंडस्ट्री की मदद के लिए लगाई जाने वाली काउंटरवेलिंग ड्यूटी और एंटी-डंपिंग ड्यूटी से अलग है।

सेफगार्ड ड्यूटी लगने से सोलर इक्विपमेंट के डोमेस्टिक मैन्युफैक्चरर्स को मदद मिलेगी, लेकिन इससे उन सोलर एनर्जी डिवेलपर्स को नुकसान होगा जिन्होंने पिछले तीन वर्षों में इम्पोर्टेड सोलर इक्विपमेंट के दाम गिरने के कारण कम टैरिफ पर प्रोजेक्ट्स के लिए बिड दी है। इससे उनकी इनपुट कॉस्ट बहुत अधिक बढ़ जाएगी।

कुछ महीने पहले तक सोलर पैनल और मॉड्यल के इम्पोर्ट पर कोई ड्यूटी नहीं थी। लेकिन पिछले वर्ष सितंबर से बोर्ड ऑफ कस्टम्स एंड सेंट्रल एक्साइज ने इन्हें उस कैटेगरी में डालने को कहा था जिसमें 7.5 पर्सेंट एक्साइज ड्यूटी और कुछ सेस देने होते हैं। अभी इस पर फैसला नहीं हुआ है, लेकिन अतिरिक्त सेफगार्ड ड्यूटी लगने से सोलर डिवेलपर्स पर दोहरी चोट पड़ेगी।

सोलर पैनल और मॉड्यूल का इम्पोर्ट मुख्यतौर पर चीन से किया जाता है। इसके अलावा मलेशिया, ताइवान और सिंगापुर से भी इनका कुछ इम्पोर्ट होता है। डायरेक्टर जनरल (सेफगार्ड्स) की जांच में पाया गया है कि 2014-15 से 2017-18 के बीच सोलर पैनल और मॉड्यूल का इम्पोर्ट बहुत अधिक बढ़ा है और डोमेस्टिक इंडस्ट्री के मार्केट शेयर में कमी आई है। इस अवधि में इनके इम्पोर्ट में 643 पर्सेंट का इजाफा हुआ है।

2016 की पहली छमाही में चीन की ओर से सोलर पैनल और मॉड्यूल के कुल एक्सपोर्ट में भारत की हिस्सेदारी 18.51 पर्सेंट थी, जो दूसरी छमाही में बढक़र 25.09 पर्सेंट और 2017 की पहली छमाही में 38.77 पर्सेंट हो गई। इस अवधि में चीन की ओर से इन इक्विपमेंट के अमेरिका और यूरोप को एक्सपोर्ट में काफी कमी आई है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •