हवाई पट्टी पर स्टंट विडियो का डीजीसीए ने लिया संज्ञान

नई दिल्ली। हवाई पट्टी पर खड़े होकर एक स्टंट करने के मामले का एविएशन रेग्युलेटरी बॉडी डायरेक्टरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) ने संज्ञान लिया है। हाल ही में एक विडियो सामने आया था जिसमें दिखाया गया था कि 9 मॉडल्स हवाई पट्टी पर खड़ी हैं और एक नौ सीटों वाला टर्बोप्रॉप उनके ठीक पीछे से उड़ान भरता है।

 

डीजीसीए के एक अधिकारी ने बताया कि रेग्युलेटर को गुरुवार की रात यह विडियो मिला और वह मामले की जांच कर रहा है। एक बार जांच पूरी हो जाए तब यह पता लग पाएगा कि इस विडियो को कहां और कब फिल्माया गया है।इस विडियो में कुछ मॉडल्स हवाई पट्टी पर खड़ी दिख रही हैं और बताया जा रहा है कि यह संभवत: राजस्थान में शूट किया गया है।

 

इस स्टंट को डीजीसीए सुरक्षा मानकों का उल्लंघन मान रहा है। टर्बोप्रॉप के हवा में पहुंचने पर हवाई पट्टी पर खड़ी मॉडल्स झुक जाती हैं। बताया जा रहा है कि मॉडल्स प्लेन की आवाज या फिर उससे डरकर झुकती हैं। इस विडियो में यह भी दिख रहा है कि एक मॉडल जयपुर के हवा महल के सामने खड़ी होकर तस्वीरें खिचवा रही है।

 

इस स्टंट में शामिल एक मॉडल विडियो में यह कहते हुए दिख रही है कि हम यहां एक प्राइवेट हवाई पट्टी पर हैं और यहां पर एक प्लेन हमारा इंतजार कर रहा है। एक दूसरी मॉडल ने कहा, मैंने अभी तक जितने भी खतरे मोल लिए हैं उसमें यह टॉप पर होगा। डीजीसीए की वेबसाइट के मुताबिक, टर्बोप्रॉप मुबंई की एक कंपनी का है।

 

जिस कंपनी का यह विमान है उससे कोशिश के बावजूद संपर्क नहीं हो पाया। सेसना 208 कारवां एक सिंगल इंजन विमान है और इसमें 14 लोगों के बैठने की क्षमता होती है। एविएशन इंडस्ट्री के लोगों का कहना है कि यह इतना छोटा विमान नहीं है जिसके साथ इस तरह के प्रयोग किए जा सकें।

 

एक वरिष्ठ पायलट ने कहा, हमेशा इस बात की संभावना रहती है कि अंतिम समय में पायलट किसी कारण से उड़ान रोक देता है, ऐसी स्थिति में इन लोगों के पास रनवे से भागने का भी मौका नहीं होगा।

PropellerAds