udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news ग्रामीणों के विरोध के आगे केदारनाथ के लिये नहीं भर पाया उड़ान

ग्रामीणों के विरोध के आगे केदारनाथ के लिये नहीं भर पाया उड़ान

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हेलीकाप्टर कंपनी के खिलाफ ग्रामीणों ने हेलीपैड में दिया धरना,ग्रामीणों का आरोप हेली कंपनी स्थानीय लोगों को नहीं दे रही रोजगार
रुद्रप्रयाग। विश्व प्रसिद्ध केदारनाथ धाम के लिये उड़ान भरने वाली हवाई सेवाओं के खिलाफ केदारघाटी की जनता ने मोर्चा खोल दिया है। त्रियुगीनारायण से केदारनाथ के लिये चलने वाले ग्लोबल विक्ट्रा हेली कंपनी के हेलीपैड पर त्रियुगीनारायण के ग्रामीणों ने धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

 

ग्रामीणों का आरोप है कि हेली कंपनी टिकटों में धांधली कर रही है और स्थानीय ग्रामीणों के हितों की अनदेखी भी की जा रही है। हेली कंपनी ने ग्रामीणों को रोजगार देने का आश्वासन दिया था, लेकिन कंपनी अपने वायदों से मुकर रही है। उन्होंने कहा कि जब तक ग्रामीणों की मांगे नहीं मानी जाती हैं, तब तक हेलीकाप्टर को उड़ान नहीं भरने दी जायेगी।
बुधवार को त्रियुगीनारायण के ग्रामीणों ने ग्लोबल विक्ट्रा एविएशन के हेलीपैड पर आकर धरना शुरू करने के साथ ही कंपनी के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। ग्रामीणों ने कहा कि कंपनी द्वारा टिकट की दलाली की जा रही है। ऑनलाइन बुकिंग के नाम पर ठगी हो रही है। उन्होंने कहा कि कंपनी ने स्थानीय लोगों को हेली सेवा में रोजगार देने की बात कही थी, लेकिन कंपनी किसी को भी रोजगार नहीं दे रही हैं।

 

उन्होंने कहा कि स्थानीय लोगों के यहां होटल-लॉज हैं। आये दिन कई तीर्थ यात्री यहां रूकते हैं और केदारनाथ जाने के लिये हेलीकाप्टर की मांग करते हैं, लेकिन हेली कंपनियां स्थानीय लोगों के तीर्थ यात्रियों को केदारनाथ नहीं भेजती हैं, जिससे तीर्थ यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

 

ग्रामीणों ने कहा कि हेलीकाप्टर बहुत नीचे से फ्लाइंग करता है, जिससे दिक्कतें पैदा होती हैं। महिला मंगल दल की महिलाओं ने हेली कपंनी से प्रत्येक माह सहयोग राशि देने की भी मांग की।
प्रदर्शनकारी ग्रामीणों ने कहा कि हेली कंपनियों द्वारा नियमों को ताक पर रखकर उड़ाने भरी जा रही हैं। इनके लिये कोई नियम-कानून नहीं बने हुये हैं। हेली सेवाओं के कारण स्थानीय जनता का रोजगार भी प्रभावित हो रहा है।

 

उन्होंने कहा कि जब तक हेली कंपनी द्वारा ग्रामीणों की मांग नहीं मानी जाती है, तब तक आंदोलन जारी रहेगा। यदि फिर भी मांगे नहीं मानी जाती हैं तो कंपनी के खिलाफ आंदोलन तेज किया जायेगा। इस मौके पर अंकित गैरोला, योगेन्द्र, राकेश, महिला मंगल दल अध्यक्ष विश्वेश्वरी देवी, अनिता देवी, सुरीला देवी,
वहीं दूसरी और विरोध के कारण हेलीकाप्टर बुधवार को केदारनाथ के लिये उड़ान नहीं भर पाया। जिस कारण यात्री काफी परेशान रहे। कई यात्री वापस ही बैरंग लौट गये। जिस कारण हेली कपंनी को काफी नुकसान भी झेलना पड़ा।

 

हालांकि बाद में एसडीएम के नेतृत्व में ग्रामीणों और हेली अधिकारियों के बीच वार्ता हुई, लेकिन वार्ता में कुछ नहीं निकल पाया। हेली कंपनी के अधिकारियों ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि 2 मई तक उनकी मांगों पर अमल किया जायेगा।

Loading...

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •