गर्लफ्रेंड से ब्रेकअप के चलते सदमे में था हमलावर,सैन डिएगो हमला नस्लीय नहीं

सैन डिएगो। अमेरिका के सैन डिएगो में एक व्यक्ति द्वारा पूल पार्टी कर रहे कुछ लोगों पर फायरिंग करने के मामले पुलिस ने बताया है कि हमलावर अपनी गर्लफ्रेंड से हुए ब्रेकअप की वजह से गहरे सदमें में था।

 

पुलिस के मुताबिक, आरोपी पीटर सेलिस (49) ब्रेकअप की वजह से डिप्रेशन में था, यानी उसने पीडि़तों पर नस्लीय हमला नहीं किया था जैसा कि शुरू में मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया था। इस हमले में सात लोग उसकी गोलियों का शिकार हुए थे जिनमें से एक महिला की मौत हो गई थी। सैन डिएगो पुलिस की चीफ शेली जिमरमैन ने कहा, ये पीडि़त बस गलत वक्त पर गलत जगह पर मौजूद थे। पुलिस ने बताया है कि हमले के वक्त सेलिस ने अपनी पूर्व गर्लफ्रेंड को कॉल किया था।

 
पुलिस ने बताया कि हमला (स्थानीय समय के मुताबिक) शाम 6 बजे हुआ। सेलिस उसी अपार्टमेंट कॉम्प्लेक्स के पूल के पास बैठा हुआ था जहां कुछ लोग एक जन्मदिन पार्टी मना रहे थे। सेलिस ने अपनी बंदूक से इन लोगों पर हमला कर दिया था। ‘लॉस ऐंजलीज टाइम्स’ के अनुसार, एक निवासी ने कहा कि वह उस वक्त अपने अपार्टमेंट में था जब उसने गोलियां चलने और चीखने-चिल्लाने की आवाजें सुनीं। वह अपनी इमारत के क्लबहाउस पहुंचा, जहां से पूल साफ दिखता था।

 

चश्मदीद ने कहा कि हमलावर की गोलीबारी में घायल लोग बचने की कोशिश कर रहे थे। पीटर के एक हाथ में बियर थी और दूसरे हाथ में बंदूक। एक और चश्मदीद ने बताया कि सेलिस पार्टी कर रहे लोगों को घटनास्थल से जाने को कह रहा था।पुलिस चीफ शेली ने बताया कि सेलिस चाहता था कि उसकी पूर्व गर्लफ्रेंड सुने की वह क्या कर रहा है। उसका कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं है। वह लोगों पर फायर करता रहा और फोन पर लगातार बात करता रहा।

 

इलाके के पास एयर पट्रोलिंग कर रहे पुलिस के एक हेलिकॉप्टर ने उसे अपनी पॉइंट 45 कैलिबर हैंडगन में गोलियां भरते देखा था जिसके कुछ ही पलों बाद पुलिस ने उसे ढेर कर दिया।घटना से कुछ ही दिन पहले सेलिस का उसकी गर्लफ्रेंड से ब्रेकअप हुआ था। उसके परिवार ने बताया कि इस वजह से वह परेशानी और सदमें में था। शेली ने बताया, हमने अब तक जो भी जानकारी इक_ा की है, उससे साफ है कि सेलिस गर्लफ्रेंड से दूर होने की वजह से बहुत ज्यादा उदास था।