एक दिन में 150 कांवड़ यात्री ही जा पाएंगे गोमुख

उत्तरकाशी। आगामी जुलाई माह से शुरू हो रही कांवड़ यात्रा को लेकर अधिकारियों की बैठक लेते डीएम डॉ.आशीष कुमार श्रीवास्तव ने एक दिन में केवल 150 कांवड़ यात्रियों को गोमुख भेजने के निर्देश दिए।

 

उन्होंने उप निदेशक गंगोत्री राष्ट्रीय पार्क को निर्देश दिए कि यदि यात्रा के दौरान भारी बारिश होती है तो कांवडिय़ों को गंगोत्री में ही रोका जाए। बुधवार को डीएम की अध्यक्षता में कांवड़ यात्रा की बैठक आयोजित की गई। बैठक में कांवड़ यात्रा को सुचारु एवं शांति पूर्ण ढंग से संचालित करने को लेकर चर्चा की गई।

 

इसमें डीएम ने कहा कि डाक कांवड़ का आवागमन अधिक होने की संभावनाओं को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त रहे इसके लिए उन्होंने पुलिस प्रशासन को यात्रा रूट पर पर्याप्त पुलिस कर्मी तैनात करने की बात कही। वहीं सडक़ मार्ग को लेकर कहा कि अधिक बारिश होने पर गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग के नालूपानी, बंदरकोट, नेताला, मल्ला, हेलगूगाड़ और गंगनानी में सडक़ मार्ग अवरुद्ध होने पर बीआरओ जेसीबी मशीन के साथ तैनात रहे। ताकि मार्ग को समय पर खोला जा सके।

 

कांवड़ यात्रा में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एसपी ददनपाल ने बताया कि पूरे यात्रा रूट को छह सेक्टर में बांटा गया है जिसमें पर्याप्त पुलिस कर्मी तैनात किए जाएंगे। गंगोत्री स्नानघाट पर किसी भी प्रकार की दुर्घटना न हो इसके लिए एसडीआरएफ, पुलिस तथा फायर सर्विस के सुरक्षा कर्मी तैनात रहेंगे ।

 

बैठक में एसडीएम डीएस नेगी, ईई लोनिवि अशोक कुमार, पीएस पंवार, जिला पर्यटन अधिकारी केएस नेगी, एसडीओ वन आरपी सिंह, डीएसओ आईडी नौटियाल सहित यात्रा से जुड़े अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

PropellerAds