udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news दस घंटे बंद रहा रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड हाईवे

दस घंटे बंद रहा रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड हाईवे

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

राजमार्ग खोलने में सुस्ती दिखा रहा लोनिवि राजमार्ग खण्ड
घंटों जाम में फंस रहे तीर्थयात्री एवं स्थानीय जनता
ऑल वेदर कार्य से पहाड़ी हुई कमजोर, रामपुर में बनी सिरोबगड़ जैसी स्थिति
रुद्रप्रयाग। ऑल वेदर कार्य कर रही कंपनी ने रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड राजमार्ग के रामपुर में पहाड़ी कटान का कार्य सही तरीके से नहीं किया है, जिस कारण हल्की सी बरसात में भारी मात्रा में मलबा राजमार्ग पर आ रहा है और जनता के लिए परेशानी खड़ी हो रही है।

बृहस्पतिवार रात को जिले में बारिश शुरू हुई तो राजमार्ग के रामपुर में पहाड़ी से मलबा गिर गया। रात ग्यारह बजे राजमार्ग बंद हो गया था, जिसे खोलने के प्रयास सुबह किये गये और साढ़े सात बजे मार्ग को खोला गया। इसके बाद राजमार्ग फिर से नौ बजे बंद हुआ और दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद राजमार्ग को खोला गया। इस दौरान केदारनाथ यात्रा पर जा रहे तीर्थयात्रियांे एवं स्थानीय जनता को दिक्कतें झेलनी पड़ी।

आवश्यक सामग्री क्षेत्र में समय से नहीं पहुंच पाई तो स्कूल जाने वाले बच्चों और अध्यापक-अध्यापिकाओं को परेशानियों को सामना करना पड़ा। केदारनाथ हाईवे के रामपुर में भी सिरोबगड़ जैसी स्थिति बन गयी है। हल्की सी बरसात होने पर भारी मात्रा में मलबा राजमार्ग पर आ रहा है, जिसे हटाने में राजमार्ग खण्ड के पसीने छूट रहे हैं। वहीं स्थानीय लोगों ने ऑल वेदर का कार्य कर रही कंपनी पर निर्माण कार्य में लापरवाही बरते जाने का आरोप लगाया है।

उनकी माने तो निर्माण कार्य को सही तरीके से नहीं किया जा रहा है, जिससे राजमार्ग बार-बार बाधित हो रहा है। ऑल वेदर के कार्य से राजमार्ग जगह-जगह गड्डे और पानी में तब्दील हो गया है। राजमार्ग पर मलबा आने से वाहनों को निकालने में भी समस्या उत्पन्न हो रही है। स्थानीय निवासी विक्रम कंडारी ने कहा कि राजमार्ग के बाधित होने से यात्रा पर खासा असर पड़ रहा है।

बारिश होने पर राजमार्ग बंद हो जाता है और यात्रियों को घंटों जाम में फंसा रहना पड़ता है। उन्होंने कहा कि राजमार्ग की दुर्दशा के लिए ऑल वेदर का कार्य कर रही कंपनी साफ तौर से दोषी है। निर्माण कार्य सही तरीके से नहीं किया गया है, जिसका हर्जाना जनता को भुगतना पड़ रहा है। यात्रा पूरी तरीके से राजमार्ग के कारण प्रभावित हो चुकी है, जिसका सीधा असर यात्रा पड़ावों पर व्यवसाय कर रहे व्यापारियों पर पड़ा है।

वहीं जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि मानूसन सत्र को देखते हुए अधिकारियांें को सतर्कता बरतने को कहा गया है। साथ ही लोनिवि एनएच खण्ड को निर्देश दिये गये हैं कि राजमार्ग बंद होने पर तेजी से कार्य किया जाय। साथ ही ऑल वेदर का कार्य कर रही कंपनी को भी कहा गया है कि राजमार्ग खोलने में विभाग की मदद करें। उन्होंने कहा कि तीर्थयात्रियों की सुविधा का ध्यान रखा जा रहा है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •