udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news दर्दनाक हादसाः बस खाई में गिरी, 13 लोगों की मौत की पुष्टि !

दर्दनाक हादसाः बस खाई में गिरी, 13 लोगों की मौत की पुष्टि !

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अल्मोड़ा : दर्दनाक हादसाः बस खाई में गिरी, 13 लोगों की मौत की पुष्टि ! इस हादसे में कई यात्रियों के मारे जाने की सूचना है कईयों के घायल होने के समाचार हैं। 13 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है. उत्तराखंड राज्य के अल्मोडा में हुई इस भीषण दुघटना से लोग सकते में हैं। पहाड़ों में हो रही लगातार दुघटनाओं से भारी जन की हानि हो रही है।

प्राप्त समाचारों के अनुसार,मंगलवार की सुबह सल्ट तहसील के टोटाम में एक बस खाई में गिर गई। हादसे की सूचना मिलते ही प्रशासन और पुलिस की टीम घटनास्थल के लिए रवाना हो गई है। 13 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। 108 की मदद से घायलों को रामनगर भेजा गया है। बताया गया कि बस देघाट से रामनगर आ रही थी। जहां यह बस खाई में गिरी है वह स्थल रामनगर से 60 किमी. दूर है।

तहसीलदार प्रताप राम टम्टा के अनुसार बस सुबह पांच बजे रामनगर (नैनीताल) के लिए रवाना हुई थी। दुर्घटना सुबह तकरीबन पौने नौ बजे हुई। बस में 25 से ज्यादा लोग सवार थे। घायलों को रामनगर स्थित चिकित्सालय ले जाया जा रहा है। मृतकों की शिनाख्त अभी नहीं हो सकी है।

घटना स्थल तहसील मुख्यालय से करीब 70 किमी दूर है। प्रशासन व पुलिस टीम मौके पर पहुंचने तथा राहत व बचाव कार्य में देरी हो रही। स्थानीय ग्रामीण रेस्क्यू कर क्षतिग्रस्त बस में फंसे घायलों को निकालने में जुटे हैं।यहां से रामनगर भेजा जा रहा है। सल्ट, भिकियासैंण, भतरौजखान से डॉक्टरों की टीम भी मौके की ओर रवाना कर दी गई है। उधर, रामनगर से भी पुलिस एवं फायर की टीम तथा दो एम्बुलेंस मौके की ओर रवाना हो चुकी हैं।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने अल्मोड़ा में भतरोजखान रामनगर मोटर मार्ग पर कालीधार-मुहाना के समीप हुई बस दुर्घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगतों की आत्मा की शांति एवं दुःख की इस घड़ी में उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है। मुख्यमंत्री ने दुर्घटना में घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है। मुख्यमंत्री रावत ने अल्मोड़ा और नैनीताल के जिलाधिकारियों से वार्ता कर राहत एवं बचाव कार्यों की जानकारी ली।

उन्होंने जिलाधिकारियों को सख्त निर्देश दिये हैं कि राहत एवं बचाव कार्यों में कोई भी कोताही बर्दाश्त नही की जायेगी। घायलों का हर संभव उपचार सुनिश्चित किया जाए। मुख्यमंत्री ने दुर्घटना हेतु अनुमन्य राहत राशि तत्काल वितरित करने के निर्देश भी दिये है। अभी तक प्राप्त सूचना के अनुसार 108 एम्बुलेंस सेवा, राजस्व विभाग एवं पुलिस विभाग की टीम तथा एसडीआरएफ मौके पर भेज दी गई है। आपदा प्रबन्धन के प्रशिक्षित स्वयं सेवकों द्वारा राहत एवं बचाव का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है। सल्ट, भिकियासैंण और भतरोज खान से डाॅक्टरों की टीम भेजी गई है।

 

देघाट अल्मोड़ा से रामनगर जा रही एक बस टोटाम में गोलूधार के पास लगभग ढाई सौ मीटर खाई में जा गिरी, इस दुर्घटना में 13 लोगों की मौत हो गई, जबकि एक दर्जन लोग घायल हो गए। राज्यपाल और सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है।
तहसीलदार प्रताप राम टम्टा के अनुसार बस सुबह पांच बजे रामनगर के लिए रवाना हुई थी। दुर्घटना सुबह तकरीबन पौने नौ बजे हुई। बस में 25 से ज्यादा लोग सवार थे। घायलों को रामनगर स्थित चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

घटना स्थल तहसील मुख्यालय से करीब 70 किमी दूर है। स्थानीय ग्रामीण रेस्क्यू कर क्षतिग्रस्त बस में फंसे घायलों को निकालने में जुटे रहे। ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने शवों और घायलों को बाहर निकाला। मृतकों में सुरेश कुमार (27 वर्ष) पुत्र जगदीश निवासी ग्राम एराड़ी जावार तहसील स्घ्याल्घ्दे अल्घ्मोड़ा, मंजू देवी (30 वर्ष) पत्घ्नी नरेंद्र सिंह निवासी कुन्हील तहसील भिक्यिासैंण अल्मोड़ा, मुकेश कुमार (40 वर्ष) पुत्र फकीर राम निवासी ग्राम और पोस्घ्ट स्घ्याल्घ्दे अल्घ्मोड़ा, हेमा देवी (42 वर्ष) पत्नी प्रयाग दत्त निवासी बुड़ाकोटी निवासी ग्राम जसपुर तहसील स्घ्याल्दे अल्मोड़ा, दौलत सिंह मनराल (65 वर्ष) पुत्र मोहन सिंह निवासी ग्राम व पोस्ट खटलगांव तहसील स्याल्दे अल्मोड़ा, नीवन चंद्र (40 वर्ष) पुत्र बालादत्घ्त निवासी ग्राम व पोस्घ्ट खटलगांव तहसील स्याल्दे अल्घ्मोड़ा, राजेश कुमार (42 वर्ष) दीवानी राम निवासी बाड़ीबागीचा अल्मोड़ा, भैरव दत्घ्त (35 वर्ष) पुत्र पानदेव लोहनी निवासी बरगल स्घ्याल्दे अल्घ्मोड़ा, धर्मपाल सिंह ( 48 वर्ष) पुत्र हरी सिंह निवासी ग्राम जैकणा पोस्ट उदयपुर स्याल्दे अल्मोड़ा, भगत सिंह (40 वर्ष) पुत्र कुंदन सिंह निवासी ग्राम पत्थरखोला अल्मोड़ा (रामनगर अस्पताल में मौत हुई), गोपाल सिंह पुत्र उत्तम सिंह निवासी मकान नंबर 25554 दुर्गा मंदिर रोड कृष्णापुर पनीपत हरियाणा, आनंद सिंह बंगारी (48 वर्ष) पुत्र कुशाल सिंह निवासी तल्ला भाकुड़ा तहसील स्याल्दे अल्मोड़ा, सतीश चंद्र जोशी पुत्र हरीश चंद्र जोशी निवासी ग्राम दानपुर उधमसिंहनगर शामिल है।

घायलों में हरीश रावत (38 वर्ष) पुत्र त्रिलोक सिंह निवासी ग्राम चमकाना अल्मोड़ा, गजेंद्र सिंह पुत्र दिवान सिंह निवासी ग्राम भतरौजखान जिला अल्मोड़ा, दलीप सिंह (35 वर्ष) पुत्र हीरा सिंह निवासी ग्राम खोल्यों पो. ऑफिस टोटाम अल्मोड़ा, देवी दत्त (70 वर्ष) पुत्र हीरामणी निवासी अल्मोड़ा, कलावती चंद्र पत्नी राजेंद्र चंद्र निवासी ग्राम जैनल भिकियासैंण, बबीता बंगारी पुत्री आनंद सिंह निवासी तल्ला भाकुड़ा, उत्कर्षा बंगारी (18 वर्ष) पुत्री आनंद सिंह निवासी तल्ला भाकुड़ा, चंद्रा देवी (40 वर्ष) पत्नी गजेंद्र सिंह उर्फ चंदन सिंह निवासी धनसुआ, गोपाल राम (65 वर्ष) पुत्र जोगा राम निवासी ग्राम क्यारी अल्मोड़ा, महेंद्र सिंह (50 वर्ष) पुत्र हर सिंह निवासी ग्राम चिरखाड़ अल्मोड़ा, संजय पांडेय (40 वर्ष) पुत्र गोविंद जसपुर और नरेंद्र सिंह (38 वर्ष) पुत्र दीवान सिंह निवासी ग्राम कुन्हील तहसील भिकियासैंण शामिल हैं। राज्यपाल और सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

सीएम ने घायलों के उचित इलाज के लिए जिला प्रशासन को निर्देश दिए हैं। सीएम ने घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने अल्मोड़ा और नैनीताल के जिलाधिकारियों से वार्ता कर राहत एवं बचाव कार्यों की जानकारी ली। उन्होंने जिलाधिकारियों को सख्त निर्देश दिये है कि राहत एवं बचाव कार्यों में कोई भी कोताही बर्दाश्त नही की जायेगी। घायलों का हरसंभव उपचार सुनिश्चित किया जाय। मुख्यमंत्री ने दुर्घटना हेतु अनुमन्य राहत राशि तत्काल वितरित करने के निर्देश भी दिये है। अभी तक प्राप्त सूचना के अनुसार 108 एम्बुलेंस सेवा, राजस्व विभाग एवं पुलिस विभाग की टीम तथा एसडीआरएफ मौके पर भेज दी गई है। आपदा प्रबन्धन के प्रशिक्षित स्वयं सेवकों द्वारा राहत एवं बचाव का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है। सल्ट, भिकियासैंण और भतरोज खान से डॉक्टरों की टीम भेजी गई है।

 

Loading...

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •