स्मॉग के साए में बीजिंग, सरकार ने कारखानों को दिए बदं करने के आदेश

बीजिंग। चीन के बीजिंग शहर में बढ़ते वायु प्रदूषण को देखते हुए स्थानीय सरकार ने चीन की राजधानी के नजदीक करीब 1200 फक्ट्रियों को या तो बंद कर देने या फिर प्रोडेक्शन को कम करने का आदेश दिया है। इसमें कई बड़ी ऑयल रिफाइनरी भी शामिल है। यह सब कवायद रााजधानीमें बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए की जा रही है। गैारतलब है कि बीजिंग में स्मॉग के चलते हवा में प्रदूषण का स्तर खतरनाक स्तर से कहीं आगे निकल गया है। इसको देखते हुए गुरुवार को यहां रेड अलर्ट जारी किया गया था। बीजिंग सरकार की नगरपालिका के मुताबिक अगले पांच दिनों तक शहर में दम घुंटने वाला स्मॉग आसमान में छाया रहेगा। पूरे उत्तरी चीन में स्मॉग का कहर छाया है। इसको देखते हुए शुक्रवार को रात 8 बजे से बीजिंग में सभी प्राइवेट कारों पर रोक लगा दी गई है। इसके अलावा बीजिंग में प्रदूषण को रोकने के लिए ऑड-ईवन प्लेट सिस्टम लागू किया जा रहा है। बीजिंग नगरपालिका ने ये नोटिस अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया है। बढ़ते स्मॉग को देखते हुए बीजिंग में सारी कंस्ट्रक्शन साइट बंद रखी जाएगीं। यहां पर इंडस्ट्रियल प्लांट्स और एंटरप्राइजेज के उत्पादन पर भी रोक लगा दी गई है। शहर में बढ़ते हुए प्रदूषण के खतरे को देखते हुए प्राइमरी और मिडिल स्कूलों को भी बंद किया जा सकता है। ये रेड अलर्ट उस समय जारी किया गया जब स्मॉग के 72 घंटों से भी ज्यादा समय तक बने रहने के संकेत मिले हैं। चीन की राजधानी बीजिंग में सबसे पहले पिछले साल दिसंबर में रेड अलर्ट जारी किया गया था। 2013 में वायु प्रदूषण को रोकने के लिए इमरजेंसी रेस्पांस प्रोग्राम अपनाने के बावजूद भी ये खतरा छाया हुआ है। चीन में सबसे ज्यादा ग्रीन हाउस गैसों का उत्सर्जन बिजली के लिए जलाए जाने वाले कोयले को जलाने से होता है।