भारतीय टीम क्लीन स्वीप के इरादे से उतरेगी

मुंबई । रोहित शर्मा की कप्तानी में पहले ही सीरीज जीत चुकी टीम इंडिया रविवार को श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और आखिरी टी-20 क्रिकेट मैच में क्लीन स्वीप के इरादे से उतरेगी।

इस मैच में भारतीय टीम अपनी बेंच स्ट्रेंथ को भी आजमा सकती है। श्रीलंका के लिए यह दौरा काफी निराशाजनक रहा है और भारत के हाथों दो मैचों में मिली हार ने उसकी परेशानी और बढ़ा दी है। भारत ने कटक में पहले मैच में मेहमान टीम को 93 रन से हराया और इंदौर में दूसरा मैच 88 रन से जीतकर सीरीज अपने नाम कर ली।

इससे पहले वनडे सीरीज में श्रीलंका को 1-2 से पराजय झेलनी पड़ी थी, जबकि टेस्ट सीरीज में भी वह 0-1 से हारी थी। दूसरी ओर भारतीय टीम ने सभी प्रारूपों में सफलता हासिल की है और दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले एक और जीत के साथ वह अपना मनोबल बढ़ाना चाहेगी। दक्षिण अफ्रीका में उसे तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन टी-20 मैच खेलने हैं।

लगातार एकतरफा मुकाबले दक्षिण अफ्रीका के कठिन दौरे के लिए अच्छी तैयारी नहीं कहे जाएंगे, लेकिन सकारात्मक बात यह है कि कप्तान विराट कोहली समेत सीनियर खिलाडिय़ों की गैर मौजूदगी में युवा खिलाडिय़ों ने वनडे और टी-20 सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया है।

बल्लेबाजी का दारोमदार : कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने सबसे तेज टी-20 शतक के डेविड मिलर के रिकॉर्ड की बराबरी की। उन्होंने इंदौर में 43 गेंद में शतक बनाया और अपने घरेलू मैदान पर वह इस फॉर्म को बरकरार रखना चाहेंगे। केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे और अनुभवी महेंद्र सिंह धौनी सभी ने उपयोगी पारियां खेली हैं।

दो अर्धशतक जमा चुके राहुल इस लय को कायम रखते हुए टीम में अपनी जगह पुख्ता करना चाहेंगे। पहले मैच में अच्छा स्कोर करने वाले स्थानीय खिलाड़ी अय्यर अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलना चाहेंगे।

भारत ने शुक्रवार को धौनी को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजा था और पूर्व कप्तान ने तेजी से रन बनाकर इस फैसले को सही साबित किया। मुंबई में भी इसे दोहराया जा सकता है।

PropellerAds