udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के नाम पर की जा रही ठगी !

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के नाम पर की जा रही ठगी !

Spread the love
  • 16
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    16
    Shares

गांवों में घूम रहे हैं गिरोह, ग्रामीणों से वसूल रहे रुपये,फार्म भरवाकर मांगी जा रही बैंक डिटेल

रुद्रप्रयाग। सरकारी योजनाआंे के नाम पर एक फर्जी गिरोह ग्रामीणों को लूट रहा है। यहां तक कि ग्रामीणों से मनमाने पैंसे वसूले जा रहे हैं। फर्जी गिरोह द्वारा बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के फार्म भरवाकर लोगों से उनकी बैंक डिटेल मांगी जा रही है। हैरत की बात यह कि विभागीय अधिकारियों को भी नहीं पता कि फर्जी गिरोह ग्रामीणों को लूटने में लगा है।

विकासखण्ड जखोली, ऊखीमठ और अगस्त्यमुनि के कई गांवों में पिछले कई दिनों से कुछ लोग बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के फार्म ग्रामीणों में बांट रहे हैं। इन फार्मो को भरवाकर ग्रामीणों से सौ से दो सौ रुपये वसूले जा रहे हैं। साथ ही बैंक डिटेल मांगी जा रही है। फार्म भरकर योजना के तहत पंजीकरण की बात कहते हुए बेटी को दो लाख रुपये मिलने की बात कही जा रही है।

जो लोग फार्म भरवा रहे हैं, वे ग्रामीणों को बता रहे हैं कि केंद्र सरकार ने योजना के तहत सौ करोड़ का बजट निर्धारित किया है। साथ ही पंजीकरण के लिए बेटी की उम्र आठ से 32 वर्ष मांग रहे हैं, मगर इन फार्म में स्थानीय पत्राचार के लिए कहीं भी पत्र व्यवहार के पता का कोई कॉलम नहीं है। डाक से भेजने के लिए नई दिल्ली का पता दिया गया है।

साथ ही फार्म भरने के बाद की कार्रवाई का कोई जिक्र नहीं हैं, जिसे लेकर लोगों में संशय पैदा हो रहा है। युवा सामाजिक कार्यकर्ता राकेश मोहन ने कहा कि भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही यह योजना रुद्रप्रयाग जिले के लिए नहीं है। फिर भी प्रशासन के सामने रुद्रप्रयाग में फार्म की बिक्री की जा रही है।

सौ व दो सौ रूपये से अधिक में फार्म बेचे जा रहे हैं और प्रशासन है कि सोया हुआ है। यह योजना चार जिलों के लिए है, जिसमें अल्मोड़ा, बागेश्वर, देहरादून और हरिद्वार को रखा गया है और फर्जी गिरोह भोलीभाली ग्रामीण जनता को बेवकूफ बनाकर पैंसें लूटने में लगा हुआ है।

वहीं, जिला कार्यक्रम अधिकारी धर्मवीर सिंह ने बताया कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं के तहत ऐसी कोई योजना जिले के लिए नहीं है। जो लोग ऐसा कर रहे हैं, वे किसी गिरोह के हो सकते हैं। इसलिए आमजन इन लोगों के झांसे में ना आए। बताया कि जिला प्रशासन को भी मामले से अवगत करा दिया गया है।

  •  
    16
    Shares
  • 16
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •