... ...
... ...

अकाल से 500000 बच्चे प्रभावित,जीवन रक्षक पोषित आहार की जरूरत 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

काबुल। यूनिसेफ ने मंगलवार को कहा कि अफगानिस्तान में अकाल से 500,000 बच्चे प्रभावित हुए हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, यूनिसेफ ने एक बयान में कहा है, देश के 34 राज्यों में से 10 सूखे से बुरी तरह प्रभावित हैं, जहां 20 से 30 प्रतिशत पानी के स्रोत कथित रूप से सूख चुके हैं।

 

पानी के अभाव में करीब 10 लाख लोगों के जीवन को खतरा है। इसके अलावा, आगामी महीनों में अतिरिक्त 20 लाख लोगों को इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है। बयान में कहा गया है, इन क्षेत्रों में पहले से ही कुपोषण की उच्च दर है। पर्याप्त पोषण वाले भोजन, पीने के लिए सुरक्षित पानी, स्वच्छता व सफाई के बिना बच्चों का स्वास्थ्य गिरता जा रहा है।

 

सूखे का असर सिर्फ खराब मौसम पर नहीं आया है, बल्कि पहले भी ऐसे मामले देखने को मिले हैं, क्योंकि तीव्र गंभीर कुपोषण या मौसमी कुपोषण के मामलों में करीब 25 फीसदी की वृद्धि हुई है। यूनिसेफ के अफगानिस्तान में प्रतिनिधि एडेल कोड्र ने कहा, सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्रों में बच्चों और परिवारों की जरूरतें पूरी कर स्थिति को बिगडऩे से रोकना हमारी प्राथमिकता है।

 

यूनिसेफ के अनुमान के अनुसार, 92,000 अफगान बच्चों और 8,500 गर्भवती व स्तनपान कराने वाली महिलाओं को तत्काल पोषण संबंधी सहायता की जरूरत है। जुलाई से दिसंबर 2018 के बीच पांच साल से कम आयु के करीब 121,000 कुपोषित बच्चों और 33,000 गर्भवती व स्तनपान कराने वाली महिलाओं को जीवन रक्षक पोषित आहार की जरूरत हो सकती है।

Loading...