आतंकवादियों की जेल में सऊदी अरब के 11 राजकुमार! जाने क्यों!

रियादः सऊदी अरब में शाही महल के बाहर प्रदर्शन करने वाले 11 राजकुमारों को गिरफ्तार कर लिया गया है। ये राजकुमार शाही ख़ानदानों के बिजली और पानी के बिलों के सरकारी खजाने से भुगतान पर रोक का विरोध कर रहे थे।

अब इनके खिलाफ मुकद्दमा चलाया जाएगा। सरकारी वेबसाइट ने अधिकारियों के हवाले से खबर दी है कि शाही परिवार की सुरक्षा का जिम्मा संभालने वाले नैशनल गार्ड की एक इकाई को इन राजकुमारों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया गया।

गिरफ़्तार राजकुमारों के नाम अभी सार्वजनिक नहीं किए गए हैं। सऊदी अरब सरकार ने सार्वजनिक ख़र्चों में कटौती करते हुए फैसला लिया है कि शाही परिवार से जुड़े लोग अब अपने बिल ख़ुद चुकाएंगे।

इसी फैसले के तहत सऊदी सरकार ने शाही परिवारों की कई तरह की सरकारी सब्सिडी भी बंद कर दी हैं। राजकुमारों के प्रदर्शन के बारे में सबसे पहले ख़बर एक सऊदी वेबसाइट पर प्रकाशित की गई थी।

एक समाचार एजैंसी के मुताबिक सऊदी अरब के महाअभियोजक ने एक बयान जारी कर राजकुमारों की गिरफ़्तारी की पुष्टि की है। इन राजकुमारों को एक अति सुरक्षित जेल में रखा गया है। इस जेल में अपराधियों, चरमपंथियों और अलकायदा के आतंकवादियों को रखा जाता है।

महाभियोजक की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि देश में कोई भी कानून से ऊपर नहीं है। बीते साल नवंबर में सऊदी अरब में भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ की गई कार्रवाई में दर्जनों राजकुमारों को गिरफ़्तार किया गया था।

इनमें कुछ पूर्व मंत्री भी शामिल थे। सऊदी अरब के शाही परिवार में हज़ारों लोग हैं लेकिन धन और सामाजिक प्रतिष्ठा के मामले में शाही परिवार में ग़ैर बराबरी है।

PropellerAds