पर्यटन अधिकारी को लगाई फटकार

रुद्रप्रयाग। जिलाधिकारी डॉ राघव लंगर ने जिला पर्यटन अधिकारी को पर्यटन आवास योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार न किये जाने पर कडी फटकार लगाई है। जिलधिकारी ने कहा कि योजना का प्रचार-प्रसार न होने से आपदा प्रभावितों को इस योजना का लाभ नहीं मिल पाया है। ऐसे में पर्यटन विभाग की घोर लापरवाही उजागर होती है।
जिलाधिकारी डॉ राघव लंगर ने कहा कि आपदा प्रभावित लोगों के लिये पर्यटन आवास योजना सरकार की अच्छी पहल थी, लेकिन पर्यटन विभाग ने योजना का प्रचार-प्रसार नहीं किया है। जिस कारण जनता को योजना के बारे में जानकारी प्रान्त नहीं हो पाई है और आपदा प्रभावितों को योजना का लाभ नहीं मिल पाया है। जिलाधिकारी ने पर्यटन अधिकारी पीके गौतम को सख्त निर्देष दिये किये आपदा प्रभावित क्षेत्रों में षिविर लगाकर जनता को पर्यटन आवास योजना की जानकारी दी जाय और समय-समय पर योजना का प्रचार-प्रसार किया जाय। उन्होंने कहा कि आपदा प्रभावित क्षेत्रों में योजना की जानकारी देते हुये लोगों को गौरीकुंड तक होटल, लॉज आदि खोलने की प्रेरणा दी जाय। उन्होंने कहा कि इस योजना के अंतर्गत अभी तक मात्र दो ही आवेदन प्रान्त हो हुये हैं, जो कि पर्यटन विभाग की लापरवाही को दर्षाता है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने आवेदन भी किये थे, उन्हें योजना के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं थी, इसलिये लोगों ने अपने आवेदन वापस लिये हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि इस प्रकार की गलती को दोबारा बर्दाष्त नहीं किया जायेगा और अगले महीने वीर चन्द्रसिंह गढ़वाली स्ववरोजगार पर्यटन योजना की बैठक ली जायेगी और बैठक में विभाग की प्रगति देखी जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.